जीपी सिंह के घर मिली डायरी लेने एसीबी दफ्तर पहुंची रायपुर पुलिस, एडीजी के सरकारी आवास में भी तलाशी

Chhattisgarh Crimes
रायपुर। आय से अधिक संपत्ति और सरकार के खिलाफ साजिश रचने के आरोपों में निलंबित एडीजी जीपी सिंह के खिलाफ पुलिस की जांच तेज हो गई है। रायपुर पुलिस की एक टीम जीपी सिंह के घर से मिली डायरी लेने एसीबी के दफ्तर पहुंची है। वहीं पुलिस टीम ने एडीजी के सरकारी आवास की भी तलाशी ली है।

रायपुर सिटी कोतवाली थाने के इंस्पेक्टर मोहसिन खान ने एडीजी जीपी सिंह के घर पर अपनी टीम के साथ दबिश दी। इस दौरान पूरे घर की तलाशी ली गई। पुलिस टीम ने हर वह जगह देखी जहां कुछ दिन पहले एसीबी ने कार्रवाई की थी। जिस जगह से सरकार के खिलाफ साजिश रचने की जानकारी वाली डायरी मिली थी उसका भी मुवायना किया गया। यह घर का पिछला हिसा था।

पुलिस टीम ने जीपी सिंह के कर्मचारियों से भी पूछताछ की। पूछताछ इस बात पर केंद्रित थी कि यहां कौन-कौन किस वक्त आता था। उन लोगों की गाड़ियों के नंबर से लेकर हर बात की बारीकी से पूछताछ की गई है। पुलिस टीम एसीबी दफ्तर भी पहुंची। वहां से उस डायरी को हासिल किया है, जिसमें सरकार के खिलाफ साजिश और आपराधिक ब्यौरा दर्ज है। इसको अब विशेष जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जाएगा।

बता दें कि एंटी करप्शन ब्यूरो ने एक जुलाई को एडीजी जीपी सिंह और उनसे जुड़े लोगों के घर पर छापा मारा था। तीन दिनों तक चली कार्रवाई में पुलिस ने जीपी के पास से 10 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति का पता लगाया था। जीपी सिंह के घर से मिली एक डायरी मेें सरकार और प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ साजिशाना इबारत मिलने के बाद एसीबी ने रायपुर सिटी कोतवाली थाने में नई एफआईआर दर्ज कराई। इसमें जीपी सिंह के ऊपर राजद्रोह का मामला दर्ज हो गया।