CBI और महिला बाल विकास विभाग का फर्जी अफसर बन 15 लाख की ठगी, महिला कारोबारी को लगाया चूना

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। CBI और महिला बाल विकास विभाग का अफसर बनकर शातिरों ने रायपुर के महिला कारोबारी से 15 लाख की ठगी की। पुलिस के मुताबिक बिलासपुर में रहने वाले रूद्रा मिश्रा ने खुद को महिला बाल विकास विभाग का डायरेक्टर बताया और उसके दोस्त रितेश शर्मा ने खुद को CBI अफसर बताते हुए रायपुर के शिवम विहार अमलीडीह निवासी महिला कारोबारी शशिकांता तिर्की से जान-पहचान बढ़ाई।

फिर लौदाबाजार, इंदौर, खंडवा, विदिशा में थ्री-डी वॉल पेंटिंग डिजाइनिंग का काम दिलाने के नाम पर फर्जी टेंडर देते हुए उनसे 15 लाख रुपए की ठगी कर ली।

मामले का खुलासा होने पर महिला कारोबारी ने न्यू राजेंद्र नगर थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई। जिस पर पुलिस ने रूद्रा मिश्रा, उसकी पत्नी स्वाती मिश्रा, आनंद तिवारी, रितेश शर्मा और मनोज भारतद्वाज के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। अब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।