दंतेश्‍वरी माता को चढ़ाने तैयार की गई 11 किलोमीटर लंबी चुनरी, गिनीज बुक आफ वर्ल्‍ड रिकार्ड में दर्ज हुआ नाम

Chhattisgarh Crimes

दंतेवाड़ा। दंतेवाड़ा में दंतेश्‍वरी माता की चुनरी का नाम गिनीज बुक आफ वर्ल्‍ड रिकार्ड में नाम दर्ज हो गया है। गिनीज बुक वर्ल्‍ड रिकार्ड की टीम के चन्द्रहास कुमार भी रविवार को दंतेवाड़ा पहुचे थे, जिन्होंने बताया दंतेश्‍वरी माता को चढ़ाई जाने वाली चुनरी गिनीज बुक वर्ल्‍ड रिकार्ड में शामिल हो गई है। मुख्यमंत्री के दंतेवाड़ा प्रवास पर सोमवार को टीम प्रमाण पत्र सौपेगी।

Chhattisgarh Crimes

दंतेश्वरी मंदिर से बाइपास चौक तक निकाली गई चुनरी यात्रा

रविवार को सुबह साढ़े सात बजे दंतेश्वरी मंदिर प्रांगण से बाइपास चौक तक निकाली गई। चुनरी यात्रा जिसमें बड़ी संख्या में भक्त गण अधिकारी कर्मचारी, विधायक चुनरी यात्रा में शामिल हुए। दंतेश्वरी माता को 11000 मीटर लंबी चढ़ाई जाने वाली चुनरी डेनेक्स की 300 महिलाओं ने तैयार की है।

दंतेवाड़ा के इस नए कीर्तिमान को रचने में डेनेक्स की महिलाओं ने दस दिन तक मेहनत की जिसके बाद 11 किलोमीटर लंबी चुनरी तैयार हुई। कलेक्टर दीपक सोनी ने बताया कि दंतेश्‍वरी माता की इच्छा से ही सब कुछ हुआ है। दंतेवाड़ा का नाम विश्व भर में हो रहा है, इसके लिए दंतेश्वरी माता का ही आशीर्वाद है।

रविवार को दंतेश्‍वरी माता की चुनरी यात्रा में विधायक दंतेवाड़ा देवती महेंद्र कर्मा, पादप बोर्ड उपाध्यछ छबिन्द कर्मा, जिला पंचायत सदस्य सुलोचना कर्मा, टेंपल कमेटी के विमल सुरना, सुरेश कर्मा कलेक्टर दंतेवाड़ा दीपक सोनी, जिला पंचायत सीईओ आकाश छीकरा, एसडीएम अविनाश मिश्रा, तहसीलदार यशोदा केतारप सहित बड़ी संख्या में भक्त दंतेश्वरी मंदिर से बाइपास चौक तक निकली चुनरी यात्रा में शामिल हुए।