विधानसभा में उठा बठेना गांव में 5 लोगों की मौत का मामला, पूर्व मंत्री बृजमोहन ने जमीन माफियाओं को संरक्षण देने का लगाया आरोप

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। विधानसभा में आज दुर्ग जिले के बठेगा गांव में पांच लोगों की मौत का मामला गूंजा। पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि दुर्ग में जमीन माफिया के कारण हत्याएं हो रही है। उन्होंने सरकार पर जमीन माफियाओं को संरक्षण देने का आरोप लगाया। आगे कहा कि सरकार द्वारा हत्यारों को बचाने की कोशिश की जा रही है। इस मामले में पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने स्थगन प्रस्ताव पर काम रोककर चर्चा कराए जाने की मांग की।

बठेना की घटना पर सदन में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। फॉरेंसिक टीम के द्वारा गंभीरतापूर्वक जांच की जा रही है। प्रदेश के अन्य अपराधिक घटनाओं पर भी जानकारी दी। कुछ मामलों में अपराधियों की धरपकड़ के लिए ईनाम की घोषणा की गई। सभी मामलों में अपराधियों की धरपकड़ के लिए टीम लगाई गई है।

बृजमोहन अग्रवाल ने जताई नाराजगी

शून्यकाल में स्थगन की सूचना के दौरान बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हाउस ऑफ कॉमन्स भी परंपराओं से चलता है। BJP विधायक यदि स्थगन की सूचना पर अपनी बात रखना चाहते हैं तो पहले उन्हें मौका दिया जाना चाहिए। स्थगन की सूचना हमने दी है। स्थगन की सूचना में नाम है। हमारे सदस्य यदि किसी विषय पर कुछ कहना चाहते हैं तो उन्हें बोलने का मौका दिया जाएगा।

स्पीकर डॉक्टर चरणदास महंत ने कहा कि आसंदी में आप मुझसे पहले से विराजमान रहे है। 1980 से मैं इस क्लासरूम में बैठता हूं। 5 बार विस और 5 बार संसद का चुनाव लड़ा है। मुझे नियमों की भी जानकारी है और परम्पराओं की भी। परंपरा और नियम मैं भी जानता हूं। मैं भी चिल्लाकर बात कर सकता हूं लेकिन मैं धीरे कहता हूं। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि आपको नाराज होकर बात करने का अधिकार नहीं है। स्पीकर ने कहा कि गरिमा का प्रश्न है, नियम का प्रश्न है, परंपरा का प्रश्न है। सबका पालन होगा। इसके बाद बीजेपी विधायक सदन की कार्यवाही छोड़कर बाहर निकल गए।

अवैध प्लाटिंग का मामला उठा

बेमेतरा विधानसभा क्षेत्र में अवैध प्लाटिंग किए जाने का मामला उठा। कांग्रेस के आशीष कुमार छाबड़ा ने यह मामला उठाया। अवैध प्लाटिंग करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। अवैध कॉलोनी में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने की मांग की। संसदीय कार्यमंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि अवैध प्लाटिंग करने वाले 24 व्यक्तियों कारण बताओ नोटिस दिया। नगर पालिका परिषद बेमेतरा द्वारा कारण बताओ नोटिस दिया गया है। अर्बन कमेटी इन मामलों की जांच करती है। वे अर्बन कमेटी को जांच करने का निर्देश देंगे। अवैध कालोनियों में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराएंगे।