सहमति से संबंध बनाने के बाद युवतियां दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाती हैं, यह एक ट्रेंड बन गया है : किरणमयी नायक

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। प्रदेश में रेप और महिलाओं से छेड़छाड़ की घटनाओं में तेजी से इजाफा हो रहा है। रोजाना प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से ऐसी घटनाएं सामने आ रही है। रेप के मामलों को लेकर छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि युवतियां 18 साल होते ही लिव इन में रहकर सहमति से संबंध बनाती हैं और बाद में दुष्कर्म का मामला दर्ज करवातीं हैं। आज कल ये एक ट्रेंड बन गया है।

किरणमयी नायक ने कहा कि आज कल एक नया चलन शुरू हो गया है। जैसे ही लड़कियां 18 साल की होती हैं, वे शादी कर लेते हैं और फिर एक बच्चे के साथ हमारे पास आते हैं। मैं उनसे अपील करना चाहूंगी कि वे पहली बार शिक्षित हों, जिम्मेदार बनें और यह सुनिश्चित करें कि जिस व्यक्ति से उनकी शादी हो रही है, वह भी जिम्मेदार हैं।

उन्होंने आगे कहा कि यदि आप एक विवाहित युवक से प्यार करते हैं, तो आपको इस बात का समझना होगा कि उसके पास दोनों के जीवन-यापन की क्षमता है या नहीं। ऐसे मामलों में आपको पुलिस को सूचना देना चाहिए। अधिकतर ऐसे ही मामलों में युवतियां पहले लिव इन रिलेशनशीप में रहतीं हैं और संबंध बनाती हैं। बाद में रेप का मामला दर्ज करवाती हैं। मैं आपसे निवेदन करना चाहती हूं कि आप पहले अपने रिश्ते और स्थिति को समझें। यदि आप ऐसे किसी रिश्ते में बंधते हैं, तो परिणाम हमेशा बुरा ही होगा।