भाजपा नेताओं ने संवेदना व्यक्त कर कहा- करुणा जी का निधन अपूरणीय क्षति

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई ने पूर्व विधायक व पूर्व संसद सदस्य करुणा शुक्ला के देहावसान पर गहनशोक व्यक्त किया है। प्रदेश भाजपा-परिवार ने श्रीमती शुक्ला के निधन को अपूरणीय क्षति बताते हुए कहा कि प्रदेश की राजनीति में महिला सशक्तिकरण के लिए समर्पित एक मुखर नेत्री से जुड़ी संभावनाओं का अंत हो गया है। प्रदेश भाजपा-परिवार ने अपनी गहरी संवेदना व्यक्त कर उनकी आत्मा की चिरशांति की प्रार्थना कर परिजनों को चिर-विछोह की यह वेदना सहने की शक्ति देने की प्रार्थना परमपिता परमेश्वर से की है।

प्रदेश भाजपाध्यक्ष विष्णुदेव साय ने पूर्व सांसद एवं वरिष्ठ नेत्री करुणा शुक्ला के निधन पर गहरा शोक व्यक्त कर कहा कि अपने नाम के अनुरूप ही वे करुणा की मूर्ति थीं। राजनीति से अलग करुणा जी का स्नेह हम सबको प्राप्त था। करुणा दीदी के रूप में हमने आज एक एक मुखर आवाज़, स्त्री शक्ति की एक प्रखर प्रतीक को खोया है। इस क्षति की भरपाई कठिन है। दीदी के आकस्मिक निधन से भाजपा-परिवार शोकाकुल है।

भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री व प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी ने श्रीमती शुक्ला के निधन पर गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित कर कहा कि राजनीति के क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाने वाली, कुशल संगठनात्मक क्षमता की धनी, बेबाक और निडर नेत्री, मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ ही नहीं, बल्कि देश में अपनी अलग पहचान बनाने वाली कुशल नेत्री अब हमारे बीच नहीं रहीं। यह हम सभी के लिए अपूरणीय क्षति है। उनकी कमी हमेशा महसूस होगी।

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने कहा कि एक कुशल नेत्री, अद्भुत संगठनात्मक क्षमता की धनी विधायक व सांसद के रूप में जनता की सच्ची प्रतिनिधि करुणा जी हमेशा जनहित के लिए आवाज बुलंद करती रहीं। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल जी की भतीजी होने के बावजूद राजनीतिक, सामाजिक और संगठन के क्षेत्र में अपनी नेतृत्व क्षमता की अद्भुत राजनीतिक समझ व कुशलता के दम पर अपनी अलग छवि स्थापित करने वाली नेत्री का असमय निधन हम सभी के लिए अपूरणीय क्षति है। डॉ. सिंह ने कहा कि उनके साथ काम करने का लंबा अनुभव उनकी यादों के रूप में हमेशा हमारे हृदय में जीवित रहेगा। उनके संगठनात्मक कौशल को हमने करीब से देखा है। भाजपा के राष्ट्रीय पदों को सुशोभित करते हुए कार्यकर्ताओं की चिंता, विधायक, सांसद के रूप में जनता की चिंता उत्कृष्ट विधायक चुना जाना उनकी कार्य कुशलता और समर्पण की भावना को दर्शाता रहा। करुणा जी मुझे राखी बाँधती थीं। वे ऐसी नेत्री रहीं जिन्होंने सहयोगी और विरोधी, दोनों ही भूमिका में कुशलता के साथ मेरा मार्गदर्शन किया। मंडल से लेकर राष्ट्रीय दायित्व तक हर भूमिका में उन्होंने अपने सरोकार और सांगठनिक क्षमता का परिचय दिया।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह ने भाजपा संगठन के विस्तार में स्व. श्रीमती करुणा शुक्ला के योगदान को याद करते हुए कहा कि अपनी राजनीतिक सूझबूझ और संगठन कौशल के बल पर मंडल इकाई के दायित्व से लेकर भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर उन्होंने जो मिसाल क़ायम की है, राजनीतिक मतभेदों के बावज़ूद आज भी वे भाजपा कार्यकर्ताओं का हर क़दम पर मार्गदर्शन करेंगीं। प्रदेश और देश की राजनीति में उनकी मुखर राजनीतिक भूमिका सदैव याद रखी जाएगी।

भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री पवन साय ने कहा कि अविभाजित मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राष्ट्रीय स्तर पर महिलाओं की राजनीतिक भूमिका को धारदार बनाने और नारी-शक्ति की भावनाओं को प्रखर अभिव्यक्ति देने में स्व. श्रीमती शुक्ला का पूरा जीवन समर्पित रहा। भारतीय राजनीति में महिलाओं के प्रभावी नेतृत्व की दृष्टि से तो उन्होंने काफी कार्य किया ही है, प्रादेशिक व राष्ट्रीय मुद्दों पर भी उनकी बेबाक राय हम सबके लिए मार्गदर्शक हुआ करती थी।

भाजपा के राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश,प्रदेश सह प्रभारी नितिन नबीन , केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह, प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, संसद सदस्य डॉ. सरोज पांडेय, रामविचार नेताम, सुनील सोनी, विजय बघेल, संतोष पांडेय, मोहन मंडावी, चुन्नीलाल साहू, गोमती साय, अरुण साव, गुहाराम अजगले, प्रदेश महामंत्री किरण देव , भूपेंद्र सवन्नी ,भाजपा विधायक नारायण चंदेल (पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष), बृजमोहन अग्रवाल, शिवरतन शर्मा, डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी, अजय चंद्राकर, पुन्नूलाल मोहले, ननकीराम कँवर, रंजना साहू, डमरूधर पुजारी, विद्यारतन भसीन, सौरभ सिंह, रजनीश सिंह,पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गौरी शंकर अग्रवाल , सुभाष राव ,भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी नलिनीश ठोकने, छगनलाल मूंदड़ा, सहित भाजपा व मोर्चा-प्रकोष्ठों की प्रदेश, ज़िला व मंडल के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने भी स्व. श्रीमती शुक्ला को अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।