रायपुर के सट्टेबाज पिथौरा में गिरफ्तार, सटोरियों के नज़र में पिथौरा सुरक्षित जगह !

Chhattisgarh Crimes

शिखादास/ छत्तीसगढ़ क्राइम्स
पिथौरा। आईपीएल के शुरु होते ही ऑनलाइन सट्टाबाज भी सक्रिय हो गए हैं, कहीं कार के अंदर तो कहीं होटल में बैठ कर ऑनलाइन आईपीएल सट्टा खिलाकर सट्टेबाज मालामाल हो रहें हैं वहीं सट्टेबाजों को पुलिस कार्यवाही का डर भी सता रहा है ऐसे में वें नए नए ठिकानों की तालाश में लगें रहते हैं, ऐसे में पिथौरा के एक होटल से रायपुर के दो ऑनलाइन सट्टेबाजो के साथ दो अन्य सट्टेबाजों के पकड़ाने के बाद यह सवाल आमजन के बीच खड़ा हो रहा है कि क्या पिथौरा को ऑनलाइन सट्टेबाज सुरक्षित जगह समझने लगें हैं !

यह सवाल इसलिए भी उठ रहा है कि सौ किलोमीटर की दूरी तय कर रायपुर के सट्टेबाज पिथौरा ही क्यू आए और यहां एक होटल में आराम से आईपीएल का सट्टा ऑनलाइन खिलाते रहें, पुलिस को जब इसकी जानकारी लगी तो सटोरियों को धर दबोचा है, इससे पहले भी पिथौरा में यह खेला नहीं चला होगा यह विचार योग्य है ? बहरहाल पिथौरा पुलिस और सायबर सेल की टीम को मुखबीर से सूचना मिला कि रायपुर से दो व्यक्ति आकर महिमा लाॅज पिथौरा में रूके है। मोबाईल, टीव्ही, लेपटाॅप के माध्यम से भारी मात्रा में आनलाईन आईपीएल क्रिकेट मैच सट्टा में रूपयो का दाव लगाकर हार-जीत का जुआ खेल रहे है। उक्त सूचना पर पुलिस टीम द्वारा योजना बनाकर महिमा लाॅज में दबिश दिया गया। जहाॅ लाॅज में एक कमरे में दो व्यक्ति मोबाईल, लेपटाॅप, टीव्ही, के साथ मिले।

जिनसे पूछताछ करने पर एक व्यक्ति ने अपना नाम श्याम कुमार पिता धर्मपाल सतीजा 31 वर्ष प्रोफेसर काॅलोनी रायपुर एंव दूसरे व्यक्ति ने अपना नाम संजय पिता चिमन लाल इंदुजा उम्र 45 वर्ष, वार्ड नं. 63 कुशालपुर रायपुर निवासी होना बताया तथा यह भी बताया कि वें राजस्थान विरूद्ध बैंगलोर आईपीएल क्रिकेट मैच में आॅनलाईन विभिन्न कम्पनियों के मोबाईलो से, लेपटाॅप माध्यम से टीव्ही चालू कर क्रिकेट मैच देखकर मैच के टाॅस, बैटिंग, बाॅलिंग, ओवर, रनो आदि के आधार पर रूपयों का दाव लगाकर क्रिकेट आईपीएल मैच में हार-जीत का जुआ खेल रहें थे। आरोपी के कब्जे से विभिन्न कम्पनियों को 08 नग मोबाईल, एक समसंग कम्पनी का टीव्ही, रिमोट, सेट्अप बैक्स, एक डेल कम्पनी का लेपटाॅप, एक डिब्बा पेन, तीन नग चार्जर, एक एक्सटेंशन स्वीच बोर्ड, एक नग सट्टा-पट्टी हिसाब किताब का कापी, नगदी रकम 6260 रूपयें एवं लाखो रूपये के सट्टा-पट्टी जप्त कर आरोपियों के विरूद्ध थाना पिथौरा में धारा 4(क) जुआ एक्ट की कार्यवाही की गई है।

इसी तरह 29 सितंबर को मुखबीर से सूचना पर रणवीर सिंह उर्फ निक्कु अजमानी एवं राजू उर्फ राजेन्द्र सिंह खनुजा ( दोनोंपिथौरा निवासी) अपने-अपने मोबाईल से अवतार ढ़ाबा के पास आॅनलाईन के माध्यम से राजस्थान विरूद्ध बैंगलोर आईपीएल क्रिकेट मैच में रूपयो का दाव लगाकर हार-जीत का जुआ खेला रहे थे को घेराबंदी कर पकड़ा गया। दोनो के मोबाईल में वाईस रिकार्ड में ऑनलाईन के माध्यम से राजस्थान विरूद्ध बैंगलोर क्रिकेट मैच में टाॅस, बैटिंग, बाॅलिंग, ओवर, रनो आदि के आधार पर रूपये का दाव लगाकर हार-जीत का सट्टा खेलाने का वाईस रिकार्ड होना पाया गया।

आरोपियों के कब्जे से दो नग मोबाईल, नगदी 3000 रूपये मिला। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध थाना पिथौरा में पृथक-पृथक धारा 4(क) जुआ एक्ट की तहत कार्यवाही की गई। यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्बुलकर साहू एवं अनुविभागीय अधिकारी (पु) पिथौरा विनोद कुमार मिंज के निर्देशन में थाना प्रभारी पिथौरा केशव कोसले, सायबर सेल प्रभारी उनि.संजय सिंह राजपूत, सउनि. कौशल साहू सिकंदर भोई प्रआर. प्रकाश नंद, श्रवण दास, लक्ष्मण साहू, म.प्रआर हिमाद्री देवता आर. शैलेष ठाकुर, देव कोसरिया, ललित यादव, चम्पलेश ठाकुर, शुभम पाण्डेय, हीरा मिश्रा, मीहिर बिसी द्वारा की गई।