महीनों इंतजार के बाद खुल रहे सिनेमाहॉल, बढ़ जायेगी मूवी टिकट की कीमतें

Chhattisgarh Crimes

नयी दिल्ली। 15 अक्टूबर से लोगों को फिर से सिनेमाहॉल जाकर अपनी मनपसंद फिल्मों को देखने का मौका मिलेगा. कोरोना की वजह से कई महीनों से बंद सिनेमाहॉल अब फिर से गुलजार होने वाले हैं. इसे लेकर मूवी लवर्स खासा एक्साइटेड हैं. थियेटर्स में इस साल रिलीज हो चुकी कई मूवीज को री-रिलीज करने का फैसला लिया गया है।

गाइडलाइन के मुताबिक 50 फीसदी दर्शक क्षमता के साथ ही सिनेमा हॉल को खोलने की इजाजत दी जाएगी. एक दिन में 6 की बजाय केवल 4 शो ही दिखाए जाएंगे। प्रत्येक शो के बाद सिनेमा हॉल को सेनिटाइज किया जाएगा. दर्शकों को एक सीट छोड़कर बिठाया जाएगा. 6 साल से ऊपर और 60 साल से नीचे उम्र वालों को ही सिनेमा हॉल में जाने की इजाजत दी जाएगी. कैफेटेरिया और वॉशरूम में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. खुला पॉपकॉर्न नहीं मिलेगा, केवल पैक्ड फूड ही बिकेंगे.।

जानिए कौन सी नई फिल्में रिलीज होने वाली है

इस बीच लोगों के मन में ये सवाल भी है कि 15 अक्टूबर को कौन सी फिल्में रिलीज होने वाली हैं. 15 अक्टूबर को सबसे पहले रिलीज होने वाली फिल्म प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक है. फिल्म काफी समय पहले से बनकर तैयार है लेकिन चुनाव की वजह से पिछले साल इसकी रिलीज टाल दी गई थी. फिल्म में पीएम मोदी का किरदार विवेक ओबेरॉय ने निभाया है. फिल्म का निर्देशन मैरीकॉम और सरबजीत जैसी फिल्में बना चुके प्रसिद्ध निर्देशक ओमंग कुमार ने किया है.

15 अक्टूबर को रिलीज होने वाली दूसरी फिल्म ईशान खट्टर और अनन्या पांडे स्टारर फिल्म खाली पीली है. वैसे तो ये फिल्म पहले ही ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो चुकी है लेकिन फिल्म के निर्माताओं ने इसे अब थियेटर में रिलीज करने का फैसला किया है. इस बीच कियारा आडवाणी स्टारर फिल्म इंदु की जवानी भी पहले दिन रिलीज हो सकती है.

क्या बढ़ जाएगा सिनेमा में टिकटों का दाम

इस बीच थियेटर एसोसिएशन के लोगों का कहना है कि फिलहाल टिकटों के दाम नहीं बढ़ाए जाएंगे. एक अधिकारी का कहना है कि अभी हमारी प्राथमिकता दर्शकों को सिनेमाघरों तक आकर्षित करना है. अधिकारी ने सुझाव दिया है कि पुरानी फिल्में जैसे मुन्नाभाई एमबीबीएस, हेराफेरी, फिर हेराफेरी सहित टाईगर श्रॉफ की फिल्मों के जरिए भी दर्शकों को सिनेमाघरों तक लाया जा सकता है. ऐसा इसलिए क्योंकि नई फिल्मों के लिए अभी पुख्ता तैयारी नहीं है.