थायराइड कंट्रोल करने में मदद करेगी धनिया, खाली पेट रोजाना करें सेवन

Chhattisgarh Crimes

आपको हमेशा थकान रहे, कम खाने के बाद भी वजन तेजी से बढ़ने लगे। जरा सा चलने पर ही दिल की धड़कन तेज हो जाए और 30 की उम्र में ही बुढ़ापे के निशान दिखने लगे तो समझ लीजिए कुछ ठीक नहीं है। बाल गिरने लगना, स्किन ड्राई, हमेशा चिड़चिड़े रहना जैसे संकेत दिख रहें तो समझ लें कि आप थायराइड के शिकार हो गए हैं। देश में हर दसवां व्यक्ति थायराइड की समस्या का सामना करना है। जिसमें पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या अधिक है। थायराइड एक ऐसी बीमारी है जिसका एलोपेथी से ट्रीटमेंट हो तो पूरी उम्र गोली खानी पड़ती है लेकिन योग और आयुर्वेद में इसे पूरी तरह से क्योर किया जा सकता है। थायराइड को कंट्रोल करने के लिए आप चाहे तो कुछ धनिया का सेवन कर सकते हैं।

क्या है थायराइड?

थायराइड तितली के आकार का एक ग्लैंड होता है। ये सांस की नली के ऊपर होता है। थायराइड ग्लैंड थ्योरिकसिन नाम का हार्मोन बनाती है ये हार्मोन शरीर के मेटाबॉलिज़्म को बढ़ाता है और बॉडी में सेल्स को कंट्रोल करता है। थायराइड 2 तरह का होता है। पहला Hyperthyroid जिसमें T3 और T4 तेजी से बढ़ने लगता है और दूसरा Hypothyroid जिसमें T3 और T4 तेजी से घटने लगता है।

धनिया थायराइड में कैसे है कारगर?

धनिया डाइट्री फाइबर्स का भी एक प्रमुख सोर्स है। इसके अलावा इसमें मैगनीज, आयरन, मैग्न‍िशियम भी भरपूर मात्रा में होता है। ये विटामिन सी, विटामिन के और प्रोटीन का भी अच्छा सोर्स है। इसमें बहुत कम मात्रा में कैल्शियम, फॉस्फोरस, पोटैशियम, थायमिन और कैरोटीन भी पाया जाता है। जो थायराइड को कंट्रोल करने में मदद करता है।

धनिए के बीज का पानी

सबसे पहले एक गिलास में पानी लें और उसमें 2 चम्मच साबुत धनिया डालकर रातभर के लिए भिगो दें। सुबह इस धनिया को पानी समेत पांच मिनट के लिए उबालें और फिर छानकर यह पानी गुनगुना पी जाएं।

हरी धनिया का जूस

रोजाना सुबह खाली पेट थोड़ी सी धनिया को पीसकर इसका जूस निकालकर रोजाना पीने से लाभ मिलेगा। आप लगातार 2 सप्ताह पिएं। इसके बाद 2-3 माह बाद दोबारा पिएं। इससे आपको लाभ मिलेगा।

थायराइड से निजात पाने के अन्य उपाय

गौमूत्र अर्क
औषधिय गुणों से भरपूर गौमुत्र अर्क सेहत के लिए काफी फायदेमंद है। गोमूत्र में पोटैशियम, मैग्नीशियम क्लोराइड, फॉस्‍फेट, अमोनिया, कैरोटिन जैसे तत्व पाए जाते हैं। जो शरीर से अंदर मौजूद बैक्टीरिया को मारने के साथ-साथ वजन कम करने, पेट संबंधी समस्या, दांत संबंधी समस्या के साथ कई खतरनाक बीमारियों से निजात दिलाता है। थायराइड की समस्या से निजात पाने के लिए रोजाना खाली पेट एक चम्मच गौमूत्र अर्क को एक गिलास पानी में मिलाकर पी लें।

एलोवेरा और आंवला का जूस

एलोवेरा और आंवला का जूस सेहत के लिए काफी फायदेमंद है। अगर आप थायराइड की समस्या से निजात पाने के लिए रोजाना सुबह खाली पेट एलोवेरा और आंवला जूस का सेवन करे।

लौकी का सूप
लौकी में कार्बोहाइड्रेट, आयरन, विटामिन-बी व मिनरल्स पाए जाते हैं। यह थायराइड की समस्या से निजात दिलाने में काफी कारगर है। इसलिए रोजाना लौकी का सूप पिएं।