कोरोना मरीज ने प्राइवेट हॉस्पिटल के खिड़की से कूदकर दे दी जान

Chhattisgarh Crimes

दुर्ग। जिले के जामुल के एक निजी अस्पताल में मरीज ने अस्पताल के प्राइवेट रूम की खिड़की से कूदकर जान दे दी। जामुल पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू की है। मिली जानकारी के मुताबिक धमधा के ग्राम पंडरी निवासी ईश्वर विश्वकर्मा (43) की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद बीते 11 अप्रैल को उसे जामुल के सुविधा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसे अस्पताल की पहली मंजिल पर स्थित प्राइवेट रूम में रखा गया था।

इलाज के दौरान उसके स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा था। इसके बाद भी वो मानसिक रूप से कमजोर होने लगा था। जामुल थाना प्रभारी विशाल सोन बताया कि वो अस्पताल में रहते हुए अवसादग्रस्त हो गया था। बुधवार को आधी रात के बाद करीब साढ़े 12 बजे उसने खिड़की की कांच हटाया और वहां से छलांग लगा दी। सिर पर चोट लगने के कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि अस्पताल के चिकित्सकों ने जानकारी दी है कि मृतक की स्थिति स्थिर थी। उसे बहुत ज्यादा तकलीफ भी नहीं थी।