ड्राइवर ने मालिक को लगाई लाखों की चपत, गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

बलौदाबाजार। जिले में एक ड्राइवर ने शातिर तरीके से अपने मालिक को ऑनलाइन लाखों की चपत लगाई है. जब मालिक ने खाता चेक किया तो उसके होश उड़ गए. उसने तत्काल सिटी कोतवाली पुलिस में ठगी की शिकायत की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ. पुलिस ने ड्राइवर को गिरफ्तार किया तो वह दंग रह गया. उसने सोचा भी नहीं था कि ड्राइवर आरोपी निकलेगा. फिलहाल पुलिस आरोपी के कब्जे से मोबाइल, नकदी, बाइक जब्त कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है.

Chhattisgarh Crimes

दरअसल बलौदाबाजार निवासी रमेश मिश्रा ने 7 जनवरी को थाना सिटी कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराया कि उसके एचडीएफसी बैंक के खाते से अज्ञात व्यक्ति ने 3 लाख 30 हजार रुपए निकाल लिया है. उसने अपना कार्ड डिटेल एवं किसी भी प्रकार का ओटीपी साझा नहीं किया है. शिकायत पर अपराध दर्ज किया गया. जांच में पाया गया कि उसके खाते में और भी आहरण किया गया है. इस तरह रमेश मिश्रा के खाते से अज्ञात आरोपी ने छल पूर्वक 6 लाख 54 हजार 696 का आहरण कर ठगी किया गया.

सिटी कोतवाली पुलिस ने साइबर सेल बलौदाबाजार के सहयोग से मामले की गहनता से छानबीन किया. जांच में ठगी करने वाले आरोपी प्रेम वर्मा पिता दिलीप वर्मा (28 वर्ष) पहंदा रोड, भैसापसरा निवासी को गिरफ्तार किया गया.

मामले की जांच में पता चला कि आरोपी प्रेम वर्मा प्रार्थी रमेश मिश्रा के यहां पिछले 3 साल से ड्राइवरी कर रहा था. इसी दौरान रमेश मिश्रा का एटीएम कार्ड गाड़ी में छोड़ने से आरोपी के हाथ लग गया. उसने एटीएम का फोटो खींच कर अपने पास रख लिया. आरोपी प्रेम वर्मा यूट्यूब से ठगी करने का तरीका सिखा और जब रमेश मिश्रा अपना मोबाइल गाड़ी में छोड़कर गया तो उसी दौरान आरोपी ने उनके कार्ड की डिटेल इस्तेमाल कर ओटीपी से अपने फोन पर एयरटेल मनी का अकाउंट बना लिया. उसके बाद आरोपी मौका पाकर अकाउंट से प्रार्थी के मोबाइल पर ओटीपी मंगाकर रकम निकाल लेता था और ओटीपी डिलीट कर देता था.

आरोपी के पास से अपराध में प्रयुक्त एक रेडमी मोबाइल, एटीएम कार्ड, ठगी के रकम से खरीदे गए एक केटीएम 200cc बाइक क्रमांक सीजी 04 ML 9263, नगदी जब्त किया गया. इसके साथ ही ठगी की रकम को जमा किए गए खाता को फ्रिज कर लगभग 5 लाख की संपत्ति रिकवर किया गया.