एक अप्रैल से 45 साल से ऊपर के लोग लगवा सकेंगे वैक्सीन

 

Chhattisgarh Crimes
नई दिल्ली। सरकार ने कोरोना वैक्सीनेशन पर बड़ा फैसला किया है। एक अप्रैल से 45 साल और इससे ऊपर के सभी लोग कोरोना वैक्सीनेशन के दायरे में आएंगे। उन्हें सिर्फ कोविन पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके बाद वे सरकारी या प्राइवेट सेंटर पर जाकर टीका लगवा सकेंगे। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। लोगों को सिर्फ अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा और उन्हें आसानी से सरकारी और प्राइवेट सेंटर्स पर वैक्सीन मिल जाएगी। इससे पहले केंद्र सरकार ने 22 मार्च को कोवीशील्ड वैक्सीन को लेकर नई गाइडलाइन जारी की थी। इसके मुताबिक कोवीशील्ड वैक्सीन के दो डोज के बीच का समय पहले से दो हफ्ते ज्यादा रहेगा। अब तक कोवीशील्ड के दोनों डोज के बीच 4 से 6 हफ्ते, यानी 28 से 42 दिन का अंतर रखा जाता था। नए निर्देश के मुताबिक अब यह अंतर 6 से 8 हफ्ते यानी 42 से 56 दिन का होगा। नया नियम सिर्फ कोवीशील्ड वैक्सीन पर लागू होगा। देसी वैक्सीन यानी भारत बायोटेक के कोवैक्सिन पर नया नियम लागू नहीं होगा। कोवैक्सिन के दो डोज चार हफ्ते के अंतर से ही लगाए जाएंगे।

Chhattisgarh Crimes

छत्तीसगढ़ में कल आएगी कोरोना वैक्सीन की नई खेप
केंद्र सरकार बुधवार को कोरोना वैक्सीन की नई खेप छत्तीसगढ़ भेज रहा है। इसमें कोविशील्ड वैक्सीन के 5 लाख 26 हजार डोज होंगे। इनके यहां पहुंचते ही जिलों में भेजने का काम शुरू हो जाएगा। राज्य सरकार ने करीब 12-13 दिन पहले केंद्र सरकार को 10 लाख डोज वैक्सीन की मांग भेजी थी। राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. अमर सिंह ठाकुर ने बताया, बुधवार की दोपहर में कोविशील्ड वैक्सीन के 5 लाख 26 हजार डोज मिल रहे हैं। उनके आने के बाद फिलहाल जो कमी दिख रही है, वह पूरी हो जाएगी। 2 अप्रेल को कोविशील्ड वैक्सीन की एक और खेप आनी प्रस्तावित है। इसमें वैक्सीन के 7 लाख 50 हजार डोज होंगे। अभी तक को-वैक्सीन की नई खुराक मिलने की कोई सूचना नहीं है। को-वैक्सीन को सबसे बाद में टीकाकरण प्रक्रिया में शामिल किया गया। जब टीकाकरण शुरू हुआ तो इस टीके की केवल 77 हजार 540 खुराकें ही मौजूद थीं।