अगर ऐसे ही हालात बने रहे तो सरकार को लॉकडाउन पर विचार करना पड़ सकता है : टीएस सिंहदेव

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कड़ी बंदिशों के बावजूद ना तो मौत का आंकड़ा कम हो रहा है और ना ही कोरोना मरीज की संख्या में कमी आ रही है। इन आंकड़ों के बीच स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव का बड़ा आया है। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा है कि अगर ऐसे ही हालात बने रहे तो सरकार को लॉकडाउन पर विचार करना पड़ सकता है।

एक सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि लॉकडाउन पहले भी देश और दुनिया में लगा है, लेकिन लॉकडाउन को लेकर जो दुनिया ने महसूस किया है, कि ये कोई स्थायी हल नहीं है। स्थिति अगर ज्यादा खराब हो जाती है तो लॉकडाउन लगता है, जैसे दुर्ग में कोरोना की स्थिति है, 45.9 यानि करीब 46 प्रतिशत। अभी कम टेस्टिंग के ये आंकड़े हैं, मतलब हर 100 लोगों में 46 लोग संक्रमित यानि की हर दूसरा आदमी कोरोना पॉजेटिव हो रहा है, ये बहुत चिंताजनक आंकड़े हैं, अगर यही स्थिति रही तो लॉकडाउन पर जल्दी ही विचार करना पड़ सकता है।

प्रदेश में औसतन 2 से 3 हजार के करीब मरीज मिल रहे हैं, जिसमें आधा से ज्यादा तो रायपुर और दुर्ग में मरीज मिल रहे हैं। छत्तीसगढ़ में पिछले दिनों कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री ने समीक्षा भी की थी, जिसमें नाइट कर्फ्यू के निर्देश कलेक्टरों को जिलों के हालात के आधार पर लेने को कहा था। प्रदेश के कई जिलों में इसके बाद नाइट कर्फ्यू शुरू भी हो गया। सरगुजा और सूरजपुर में नाईट कर्फ्यू लागू हो चुका है।