गरियाबंद में नक्सलियों ने टैंक निर्माण में लगे ट्रैक्टर समेत कई गाड़ियों को किया आग के हवाले

Chhattisgarh Crimes

गरियाबंद। जिले में नक्सलियों ने जमकर उत्पात मचाया है। यहां नक्सलियों ने टैंक निर्माण में लगे कई गाड़ियों को आगे के हवाले कर दिया है और मौके से भाग निकले हैं। इतना ही मौके से मुंशी भी लापता है। जिस वजह से उसके अपहरण की आशंका है। घटना अमलीपदर थाना क्षेत्र के पीपलखुटा का है। घटना के बाद पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंची है।

जानकारी के मुताबिक, पीपलखुटा गांव में सिंचाई विभाग लगभग 4 करो़ड़ की लागत से टैंक निर्माण का काम कर रहा है। इसके लिए एक निजी कंपनी को ठेका दिया गया है। कंपनी अपने कर्मचारियों और मजदूरी के साथ मिलकर इस टैंक निर्माण के काम में लगी हुई है।

बुधवार को भी सभी कर्मचारी और मजदूर काम कर रहे थे। तभी शाम करीब 5.30 बजे कुछ हथियारबंद नक्सली मौके पर पहुंचे और उन्होंने डराते धमकाते हुए, वहां खड़ी ट्रैक्टर, एक चेन माउंटेन समेत कुछ अन्य गाड़ियों को आगे के हवाले कर दिया। गाड़ी पूरी तरह जलकर राख हो गई हैं।

आस-पास के लोगों ने बताया कि घटना के बाद से ही यहां काम कर रहा मुंशी चैतन्य वर्मा लापता है। उसका कुछ पता नहीं चल पा रहा है। सिंचाई विभाग के अफसरों ने घटना की पुष्टि की है। मगर पुलिस की तरफ से कोई जानकारी नहीं दी गई है। कंपनी ने आशंका जताई है कि नक्सलियों ने मुंशी का अपहरण कर लिया है। फिलहाल पुलिस की टीम जांच में जुटी है।