इस तरह करेंगी सेंधा नमक का सेवन तो चुटकियों में कम होगा वज़न

Chhattisgarh Crimes

एक चुटकी नमक न सिर्फ आपके खाने का स्वाद बढ़ाता है, बल्कि इसे और भी पौष्टिक बना देता है। यूं मानिए कि नमक के बिना जिंदगी बेस्वाद है। पर जरूरी संतुलित मात्रा में और सही तरीके से इसका सेवन करना। भारतीय स्वाद की परंपरा में कई तरह के नमक मौजूद हैं। इनमें से एक नमक है, सेंधा नमक। हां वही, जिसका आपने अभी उपवास में सेवन किया होगा। पर क्या आप जानती हैं कि इसकी खास प्रोपर्टीज इसे वेट लॉस के लिए भी मददगार बनाती हैं। जी हां, ये बिल्कुल सच है। बस आपको इसके सेवन का तरीका पता होना चाहिए। आइए जानते हैं कैसे किया जाए वेट लॉस के लिए सेंधा नमक का इस्तेमाल।

पहले जानिए क्यों जरूरी है नमक

नमक, सामान्य तौर पर, सोडियम-क्लोराइड होता है। यह हमारे शरीर द्वारा पोषक तत्वों के परिवहन और अवशोषण, रक्तचाप को बनाए रखने और तंत्रिका संकेतों को प्रसारित करने जैसे कई कार्यों के लिए आवश्यक खनिज है।

अच्छे स्वास्थ्य के लिए हर दिन संतुलित मात्रा में नमक का सेवन करना जरूरी है। बशर्ते कि इसे कम मात्रा में लिया जाए। नमक का अधिक सेवन करने से वजन बढ़ने जैसी कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। भोजन में अत्यधिक सोडियम शरीर में वॉटर रिटेंशन का कारण बनता है, जिससे आपके वजन में उतार-चढ़ाव हो सकता है। मगर सेंधा नमक का सेवन करने से वजन कम भी किया जा सकता है।

क्या है सेंधा नमक?

सेंधा नमक कम प्रोसेस्ड होता है और इसमें अधिक पोषक तत्व होते हैं। यह हिमालय की तलहटी से निकाला जाता है और प्राकृतिक रूप से गुलाबी रंग का होता है। इसका यह हल्का गुलाबी रंग आयरन की मौजूदगी का संकेत है। यही कारण है कि इसे हिमालयन पिंक सॉल्ट (Himalayan pink salt) या हिमालयन सॉल्ट (Rock salt) के नाम से भी जाना जाता है।

ऐसा अनुमान है कि सेंधा नमक में 84 विभिन्न खनिज और ट्रेस तत्व होते हैं। इस प्रकार के नमक को फिनिशिंग सॉल्ट के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि आमतौर पर इसका उपयोग खाना पकाने के अंत में स्वाद और क्रंच जोड़ने के लिए किया जाता है।

सेंधा नमक और वेट लॉस

इसमें कोई शक नहीं कि सेंधा नमक टेबल सॉल्ट की तुलना में स्वास्थ्यवर्धक होता है, क्योंकि यह कम परिष्कृत होता है और इसमें अधिक पोषक तत्व होते हैं। सेंधा नमक के सेवन से आपको जिंक, आयरन, कैल्शियम और यहां तक कि आयोडीन भी मिल सकता है।

जब वज़न घटाने की बात आती है, तो रेगुलर नमक के मुकाबले सेंधा नमक ज़्यादा असरदार साबित हो सकता है। हालांकि, दोनों प्रकार के नमक में वजन के हिसाब से सोडियम की मात्रा समान होती है। इसका मतलब यह है कि अगर आपके नमक का सेवन अधिक है, तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किस तरह के नमक का सेवन करते हैं और वजन बढ़ना अपरिहार्य है।

इसलिए कोशिश करें कि नमक का सेवन कम मात्रा में करें और इसे अपने पके हुए भोजन के ऊपर छिड़कने से बचें। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार एक व्यक्ति को रोजाना नमक का सेवन 5 ग्राम से कम होना चाहिए, जो कि एक चम्मच के बराबर होता है।

वज़न घटाने के लिए कैसे करें सेंधा नमक का सेवन

वेट लॉस के लिए सेंधा का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है।

स्टेप 1
बस एक एयरटाइट जार में 2 बड़े चम्मच सेंधा नमक डालें।

स्टेप 2
अब इस जार को ऊपर तक पानी में मिक्स कर लें। रात भर इस जार का ढक्कन लगाकर रख दें।

स्टेप 3
सुबह उठकर इस पानी में से दो बड़े चम्मच निकालें और अलग गिलास में डाल लें।

स्टेप 4
फिर इसमें आधा कप गुनगुना पानी डालकर मिक्स करें और पिएं। इसे अगर आप खाली पेट पिएंगी तो ज्यादा फायदेमंद होगा।

स्टेप 5
ध्यान रखें कि दिन भर में दो बार से ज्यादा इस पानी का सेवन न करें।