रायपुर एम्स के सामने वारदात, एंबुलेंस ड्राइवरों ने युवक को बेरहमी से पीटा

Chhattisgarh Crimes
रायपुर। छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में स्थित एम्स अस्‍पताल के सामने गेट 2 पर एक युवक को बड़ी ही बेरहमी से पीटने का वीडियो वायरल हो रहा है। मामले में मारपीट का शिकार हुए युवक ने थाने में शिकायत आमानाका थाने दर्ज है। एम्‍स रायपुर के सामने एंबुलेंस ड्राइवरों की दादागिरी का मामला सामने आया है, इसमें एक युवक को पुरानी रंजिश के चलते जमकर पीटा और अधमरा छोड़ दिया गया। एक अगस्‍त को हुई इस घटना का पूरा वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।

लेकिन यहां बीते दो दिनों से लगातार इस तरह का माहौल देखने को मिल रहा है। लोग एम्‍स में जिंदगी को बचाने की आस में आते हैं, लेकिन अस्‍पताल के बाहर ही इस तरह घटना से कई सवाल खड़े हो गए हैं। इसमें अस्‍पताल प्रबंधन की कोई भूमिका नहीं है, लेकिन कानून व्‍यवस्‍था को संभालने वाले जिम्‍मेदार अगर अब भी इस घटना से सीख नहीं लेते तो हो सकता है कल को अस्‍पताल के अंदर भी मरीजों और डाक्‍टरों के साथ भी इस तरह की घटना हो जाए।

बहरहाल युवक ने पुलिस को अपनी शिकायत में बताया कि वह एम्‍स रायपुर गेट के सामने रोड किनारे पान ठेला चलाता है। वह एक अगस्‍त को करीब साढे छह बजे लक्ष्‍मी मेडिकल से दवा लेकर वापस आ रहा था, इस बीच एम्‍स गेट दो के सामने एंबुलेंस के ड्राइवर छबी साहू, फूलचंद, रोहन चौधरी और सौरभ तिवारी नशा कर रहे थे, उन्‍होंने मुझे देखा और पुरानी रंजीश को लेकर बिना वजह गाली-गलौच कर मारपीट करने लगे, जिससे मेरे दाएं कंधे, सिर में चोटें आई हैं। इसके अलावा थाने में जाकर शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी भी दी गई। मारपीट के दौरान हरदीप सिंग और हरप्रीत सिंग ने बीच-बचाव किया। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात घायल युवक ने शिकायत में लिखवाई है।