प्रदेश के स्कूलों के लिए जो आदेश जारी हुआ है, उसका पालन करना अनिवार्य : मंत्री प्रेम सिंह टेकाम

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। शिक्षा मंत्री प्रेम सिंह टेकाम ने प्राइवेट स्कूलों के बगावत पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कड़े तेवर में कहा कि प्रदेश के स्कूलों के लिए जो आदेश जारी हुआ है, उसका पालन करना अनिवार्य है. उन्होंने कहा कि प्राइवेट स्कूल जब जनरल प्रमोशन नहीं देंगे, तब कार्रवाई की जाएगी. छात्रों के भविष्य का सवाल है. प्राइवेट स्कूलों को आदेश का पालन करना ही होगा.

Chhattisgarh Crimes

दरअसल, छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए शिक्षा विभाग ने बोर्ड कक्षाओं के अलावा सभी लोकल कक्षाओं के बच्चों को जनरल प्रमोशन करने का आदेश दिया है. इस आदेश के खिलाफ तमाम प्राइवेट स्कूल का तानाशाही फरमान सामने आया था. छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल मैंनेजमेंट एसोसिएशन ने प्रदेश के दो लाख छात्रों को जनरल प्रमोट नहीं करने का निर्णय लिया है. इसके खिलाफ शिक्षा विभाग ने प्राइवेट स्कूलों को चेतावनी दी है.

शिक्षा मंत्री प्रेम सिंह टेकाम ने कहा कि प्राइवेट स्कूल जब जनरल प्रमोशन नहीं देंगे, तब कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि फिलहाल बगावत को लेकर हमारे पास कोई अधिकृत ज्ञापन या सूचना नहीं है. शिक्षा मंत्री ने कहा अभी तो जनरल प्रमोशन नहीं रोके हैं, जब प्रमोशन रोकेंगे तो तब का तब देखेंगे. शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार ने जनरल प्रमोशन दे दिया है. उसका पालन निजी स्कूलों को करना होगा.