भारत में हुई कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की एंट्री, ब्रिटेन से आए 6 यात्री संक्रमित

Chhattisgarh Crimes

नई दिल्ली। ब्रिटेन में हाहाकार मचाने वाले कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से पूरी दुनिया में दहशत है। भारत में इस वायरस को लेकर हलचल के बीच बुरी खबर है। ब्रिटेन समेत यूरोपीय देशों में कहर मचाने वाला कोरोना वायरस का यह नया स्ट्रेन अब भारत आ गया है। दरअसल, ब्रिटेन से लौटने वाले छह मरीज कोरोना वायरस के इस म्यूटेंट से संक्रमित पाए गए हैं। इन सभी लोगों को सिंगल आइसोलेशन रूम में रखा गया है। इनके संपर्क में आए करीबी लोगों को भी क्वारंटाइन में रखा गया है।

गौरतलब है कि 25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच कुल 33,000 यात्री यूके से भारत के अलग-अलग एयरपोर्ट पर आए थे, जिनमें से अभी तक 114 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनके सैंपल को जब जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया तो छह में नया स्ट्रेन मिला।

बता दें कि इससे पहले सोमवार को कनाडा के ओंटारियो में कोरोना वायरस के उस नये रूप (स्ट्रेन) के एक और मामले की पुष्टि हुई। सबसे पहले इसका ब्रिटेन में हाल में पता चला था।यहां एक दंपती के इस बीमारी से पीड़ित होने का मामला सामने आया था। ओंटारियो के संयुक्त मुख्य स्वास्थ्य चिकित्सा अधिकारी डॉ बारबरा याफ के मुताबिक डरहम निवासी दंपती के कोरोना के नये स्ट्रेन से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और वे दोनों अभी मेडिकल प्रोटोकाल के तहत ‘सेल्फ-आइसोलेशन में हैं।

भारत और ब्रिटेन के अलावा स्पेन, स्वीडन और स्विटजरलैंड में भी नए कोरोना वायरस के स्ट्रेन के पुष्टि हुई है। वहीं फ्रांस में भी कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला है। इसके अलावा डेनमार्क, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड्स और आॅस्ट्रेलिया में भी कई लोगों में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन पाया गया है। वहीं दक्षिण अफ्रीका में भी कोरोना वायरस का एक नया स्ट्रेन मिला है। यह ब्रिटेन के नए स्ट्रेन से अलग है। वहीं कनाडा, जापान, लेबनान, सिंगापुर और नाइजीरिया में भी कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के मरीजों की पुष्टि हो चुकी है।