फेसबुक के माध्यम से देश भर में महिलाओं को फंसाकर ठगी करने वाले नाइजीरियन आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। पुलिस ने फेसबुक के माध्यम से देश भर में महिलाओं को फंसाकर ठगी करने वाले अंतर्राष्ट्रीय विदेशी नाइजीरियन नागरिक दिल्ली से गिरफ्तार किया है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक प्रार्थिया निवासी खमतराई रायपुर ने थाना खमतराई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि माह -फरवरी 2021 में उसके फेसबुक एकाउंट में डाॅ. डेनियल डोनाल्ड नामक व्यक्ति का फ्रेण्ड रिक्वेस्ट आया था जिसे प्रार्थिया ने एक्सेप्ट किया था।

प्रार्थिया का उक्त व्यक्ति से कुछ दिनों तक फेसबुक मैसेंजर में बात होता रहा। इसी दौरान उक्त व्यक्ति ने स्वयं को बिजी रहने के कारण फेसबुक बहुत कम खोलता हूं कहकर प्रार्थिया से व्हाट्सएप नंबर मांगा जिस पर प्रार्थिया द्वारा उक्त व्यक्ति को अपना व्हाट्सएप नंबर दिया गया। जिस पर उक्त व्यक्ति ने अपने व्हाट्सएप नंबर से प्रार्थिया के व्हाट्सएप नंबर पर काॅल करने व मैसेज भेजने लगा तथा दोनों में दोस्ती हो गयी। मई 2021 में उक्त व्यक्ति ने प्रार्थिया को बोला कि वह उसके लिये गिफ्ट भेजा हैं, गिफ्ट मिल जाए तो उसे बता दे।

इसी दौरान 26 मई को प्रार्थिया के मोबाईल नंबर में एक काॅल आया एवं मोबाईल नंबर के धारक अज्ञात व्यक्ति ने अपना नाम अमृता व स्वयं को कस्टम ऑफिस दिल्ली से बोलना कहकर प्रार्थिया के नाम से एक पार्सल दिल्ली में आना बतायी एवं उसने बैंक का एक खाता नंबर दिया जिसमें 25,000/- रूपये क्लीरेयन्स के लिये भेजने कहा, जिस पर प्रार्थिया द्वारा उसके बताए खाता नंबर में दिनांक 26.05.2021 को 25,000/- रूपये स्थानांतरित किया गया फिर उसी दिन प्रार्थिया के मोबाईल फोन पर काॅल आया एवं मोबाईल नंबर के अज्ञात धारक ने प्रार्थिया से कहा कि उक्त पार्सल में ज्वेलरी व कैश है जिसके लिये पेनाल्टी 86,000/- रूपये देना पड़ेगा कहकर बैंक का खाता नंबर दिया।

जिस पर प्रार्थिया द्वारा उसके बताए खाता नंबर में दिनांक 27.05.21 को 86,000/- रूपये स्थानांतरित किया गया। दिनांक 28.05.21 को उक्त पार्सल को लीगल करने के लिये 3,30,000/- रूपये भेजने कहा गया जिस पर प्रार्थिया द्वारा दिनांक 29.05.21 को उनके द्वारा दिये गये खाता नंबर में 3,30,000/- रूपये स्थानांतरित किया गया। दिनांक 30.05.21 को पुनः प्रार्थिया के मोबाईल फोन पर काॅल आया व एंटी मनी लाडरिंग के लिये समय-समय पर राशि भेजने कहने पर प्रार्थिया द्वारा अलग – अलग तिथियों में विभिन्न बैंक खाता नंबरों में कई किश्तों में कुल 24,96,000/- (चैबीस लाख छियानवे हजार रूपये) स्थानांतरित किया इसके बाद भी मोबाईल नंबरों के अज्ञात धारक द्वारा प्रार्थिया से लगातार रकम की मांग की जाती रहीं थी, जिस पर प्रार्थिया को स्वयं के साथ ठगी होने का एहसास हुआ।

इस प्रकार आरोपी मोबाईल नंबरों के अज्ञात धारक द्वारा मंहगे गिफ्ट भेजने के नाम पर प्रार्थिया से कुल 24,96,000/- (चैबीस लाख छियानवे हजार रूपये) की ठगी किया गया। जिस पर आरोपी मोबाईल नंबरों के अज्ञात धारक के विरूद्ध थाना खमतराई में अपराध क्रमांक 443/21 धारा 420 भादवि. एवं 66डी आई टी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में सायबर सेल एवं थाना खमतराई की संयुक्त टीम द्वारा अज्ञात आरोपी की पतासाजी प्रारंभ किया गया। रायपुर पुलिस द्वारा पूर्व में भी इसी तरह से ठगी करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई थी। अतः टीम द्वारा इस तरह के तरीका वारदात के आधार पर अपराध घटित करने वाले नाइजीरियन गिरोह पर फोकस करते हुये कार्य प्रारंभ किया गया। आरोपी एवं प्रार्थिया के मध्य फेसबुक के जिस आई.डी. व मैसेज तथा मोबाईल नंबरों के माध्यम से बातचीत हुई थी उक्त आई.डी. एवं मोबाईल नंबरों का तकनीकी विश्लेषण करने के साथ-साथ प्रार्थिया द्वारा बताये गये खाते, जिनमें प्रार्थिया द्वारा पैसे जमा किये गये थे, के संबंध में भी बैंक से जानकारी प्राप्त की गई।

अज्ञात आरोपी के संबंध में प्राप्त उक्त सभी तथ्यों, जानकारी एवं साक्ष्यों का लगातार विश्लेषण करते हुये अज्ञात आरोपी की लोकेशन चिन्हांकित करने में सफलता प्राप्त हुई तथा आरोपी की उपस्थिति दिल्ली के द्वारिका में होना पाया गया। प्राप्त लोकेशन के आधार पर थाना खमतराई के उपनिरीक्षक अजय झा के नेतृत्व में 04 सदस्यीय टीम दिल्ली रवाना हुई। दिल्ली में पड़ताल प्रारंभ करने पर यह सुनिश्चित हुआ कि आरोपी द्वारा बहुत ही सर्तकता से अपनी पहचान को छिपाते हुये इस तरह की ठगी की वारदात को अंजाम दिया गया है।

आरोपी द्वारा उपयोग किये गये मोबाईल नंबर, फेसबुक आई डी व बैंक खातों के नाम व पते फर्जी थे तथा उन मोबाईल नंबरों एवं बैंक खातों का उपयोग सिर्फ और सिर्फ ठगी की वारदात को कारित करने के लिए किया गया था। दिल्ली में कैम्प कर रही टीम को तकनीकी विश्लेषण के आधार पर आरोपी के द्वारिका थाना डाबरी क्षेत्रांतर्गत स्थित बिंदापुर एक्सटेंशन में निवास करने के संबंध में अहम सुराग प्राप्त हुआ। जिस पर टीम ने तत्काल बिना समय गंवाये आरोपी के फ्लैट में रेड कार्यवाही कर नाइजीरियन नागरिक आरोपी आउत्तरा को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा प्रार्थिया को अपने झांसे में लेकर गिफ्ट भेजने का प्रलोभन देकर प्रार्थिया से लाखों रूपये की ठगी की उक्त घटना को कारित करना स्वीकार किया गया। आरोपी के कब्जे से अपराध से संबंधित 23 नग मोबाईल फोन, 05 नग लैपटाॅप, 01 नग एटीएम कार्ड एवं 01 नग पासपोर्ट जप्त किया गया है।