तालिबान ने भारत के साथ कारोबार बंद किया, सभी तरह के आयात-निर्यात पर रोक

Chhattisgarh Crimes

नई दिल्ली। तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद भले ही कहा हो कि वह भारत के साथ सामान्य रिश्ते चाहता है और भारत चाहे तो अपने प्रोजेक्ट पूरे कर सकता है, लेकिन ताजा खबर यह बताती है कि इस आतंकी संगठन की कथनी और करनी में बहुत फर्क है। खबर यह है कि ताबिलान ने भारत के साथ सभी तरह के कारोबार पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। यानी भारत और अफगानिस्तान के बीच अब किसी तरह का आयात-निर्यात नहीं होगा। एयरपोर्ट ऑर्गनाइजेशन ने यह पाबंदी लगाई है। भारत और अफगानिस्तान के बीच पाकिस्तान के रास्ते आयात-निर्यात होता है। अफगानिस्तान से भारी मात्रा में ड्राई फ्रूट्स भारत आते हैं। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से ड्राई फ्रूट की सप्लाई बंद है और यही कारण है कि रक्षाबंधन से पहले ड्राई फ्रूट से बनी मिठाइयों के दाम बढ़ गए हैं।

फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गनाइजेशन (फियो) के महानिदेशक (डीजी) डॉ. अजय सहाय ने बताया कि तालिबान ने पाकिस्तान के पारगमन मार्गों के माध्यम से कार्गो की आवाजाही रोक दी है, जिससे देश से आयात बंद हो गया है। फियो डीजी ने एएनआई को बताया, हम अफगानिस्तान के घटनाक्रम पर कड़ी नजर रखते हैं। वहां से आयात पाकिस्तान के पारगमन मार्ग से आता है। अब तालिबान ने पाकिस्तान से माल की आवाजाही रोक दी है, इसलिए लगभग आयात बंद हो गया है। बता दें, भारत के अफगानिस्तान के साथ लंबे समय से संबंध हैं, खासकर व्यापार में। अफगानिस्तान में भारत का बड़ा निवेश है।