जीवित महिला को अस्पताल ने मृत बता दिया, श्मशान में मचा हड़कंप

जब चिता पर लिटाते ही महिला की नब्ज चलने लगी

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। राजधानी के ‘मोक्ष धाम’ में जीवित महिला को चिता पर लिटा दिया गया था। जब मुखाग्नि की तैयारी चल रही थी। श्मशान घाट में मृतिका को जैसे ही चिता पर लिटाया गया, उसके बाद कुछ ऐसा घटित हुआ कि वहां पर उपस्थित लोग अचंभित हो गए। श्मशान घाट में अंतिम संस्कार के लिए लाया गया मृतिका अचानक से जीवित हो गई जिसे देख कर आसपास के लोगों भी आश्चर्य रहा गए और तत्काल महिला को फिर से अस्पताल में लाकर उसका इलाज शुरू किया गया।

Chhattisgarh Crimes

दरअसल ये कारनामा रायपुर के मेकाहारा अस्पताल का है। कुशालपुर निवासी बुजुर्ग महिला (72 वर्ष) को तबीयत खराब के चलते मेकाहारा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डॉक्टर जब चेक करने पहुंचे तो महिला की नब्ज नहीं चल रही थी और ना ही शरीर मे किसी तरह की कोई हलचल हो रही थी। जिसके बाद मेकाहारा के डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। परिजन जब मुखाग्नि देने श्मशान घाट महिला को ले गए तो यहां पर वृद्ध महिला को जैसे ही चिता पर लिटाया गया उसके शरीर मे अचानक हलचल होने लगी।

महिला को जब डॉक्टरों ने चेक किया तो उसकी नब्ज भी चल रही थी। आनन फानन में महिला को डॉक्टरों ने फिर से इलाज के लिए अस्पताल लाया। यहां पर महिला का इलाज जारी है। वहीँ परिजन बुजुर्ग महिला की कोरोना रिपोर्ट नेगिटिव बता रहे है। वहीँ इस संबंध में वृद्ध महिला के परिजनों ने बताया कि, जब उन्हें गंभीर अवस्था में श्मशान से मेकाहारा अस्पताल लाया गया, उस दौरान उनकी स्थिति काफी गंभीर थी। उन्हें अस्पताल में ऑक्सीजन और वेंटिलेटर नहीं मिलने की वजह से उनकी मौत हो गई।