युवकों ने पहले महिला से शारीरिक संबंध बनाया, फिर हत्या कर बोरे में भरकर फेंका शव, 2 आरोपी गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

भिलाई। दुर्ग जिले के नेवई थाना क्षेत्र के मरोदा स्टेशन के पास बोरे में बंद मिली लाश मामले की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की जांच में पता चला है कि महिला के कई लोगों से शारीरिक संबंध थे। वह दो लोगों को पैसों के लिए ब्लैकमेल कर रही थी और न देने पर रेप मामले में फंसाने की धमकी दे रही थी। इसके चलते महिला की हत्या की गई है।

Chhattisgarh Crimes

सीएसपी नसर सिद्दकी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 24 जून को शिवपारा स्टेशन मरोदा मंगल भवन के पास स्थित सार्वजनिक शौचालय के सेप्टिक टैंक बोरी में बंद एक महिला की लाश मिली थी। महिला की पहचान भाना बाई साहू (40 साल) निवासी शिवपारा स्टेशन मरोदा शीतला तालाब के पास थाना नेवई जिला दुर्ग के रूप में हुई थी। शव पंचनामा दौरान मृतिका के सिर में कई जगह चोटों के निशान थे। आरोपियों का पता लगाने के लिए नेवई पुलिस ने मृतिका के घर आने जाने वाले व्यक्तियों से पूछताछ शुरू की।

इस दौरान पता चला कि उसके पड़ोस में रहने वाले सोनू नेताम उर्फ झोल्टा (18 साल) से उसका पुराना विवाद था। पुलिस ने सोनू से जब पूछताछ की तो उसने अपने साथी जशवंत देशलहरे उर्फ जान (19 साल) के साथ मिलकर हत्या करना स्वीकार किया। उसने बताया कि भाना बाई सोनू को ब्लैकमेल कर रही थी कि वह उसे रेप के मामले में फंसा देगी। 17-18 जून की दरम्यानी रात वह अपने दोस्त के साथ भाना बाई के घर गया था। तीनों ने बैठकर शराब पिया और शरीरिक संबंध भी बनाए थे। इसी दौरान पुरानी बात को लेकर उनके बीच विवाद हुआ। सोनू पहले से भना बाई को मारने की तैयारी में अपने साथ लोहे का हथौड़ा लेकर गया था।

विवाद बढ़ने पर सोनू ने भाना के सिर पर हथौड़े से कई बार वार किए, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद उसने अपने साथी जशवंत की मदद से उसके शव को प्लास्टिक बोरी में भरकर रात में शिव पारा स्टेशन मरोदा मंगल भवन के पास स्थित सार्वजनिक शौचालय के पीछे सैप्टिक टैंक के अंदर डालकर ढक्कन बंद कर दिया। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त लोहे के हथौड़े को जप्त किया गया है। आरोपियों से पूछताछ जारी है।