मेडिकल कॉलेज में एडमिशन दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले दो आरोपी राजस्थान से गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

बालोद। मेडिकल कॉलेज में एडमिशन दिलाने के नाम धोखाधड़ी करने वाले अर्तराज्यीय गिरोह के दो आरोपियों को जयपुर, राजस्थान से गिरफ्तार किया गया है. मामले में सायबर सेल एवं थाना देवरी ने संयुक्त कार्रवाई की है. मेडिकल कॉलेज में सीट दिलाने के नाम 3,95,023 रुपए की धोखाधड़ी किए जाने पर थाना देवरी का मामला दर्ज किया गया था.

जानकारी के अनुसार, देवरी निवासी प्रार्थी राहुल गायकवाड पिता दरबारी राम गायकवाड से अज्ञात व्यक्ति ने मेडिकल कॉलेज में एडमिशन दिलाने के नाम पर 3,95,023 रुपए लेकर उसके साथ धोखाधड़ी की थी. प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना देवरी में धारा-420 भादवि के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में लिया गया था.

मामले में एसएसपी जितेन्द्र सिंह मीणा के मार्गदर्शन, एएसपी डीआर पोर्ते और डीएसपी दिनेश कुमार सिन्हा के पर्यवेक्षण में देवरी थाना प्रभारी नवीन बोरकर के नेतृत्व में थाना देवरी एवं सायबर सेल की विशेष टीम गठित कर आरोपियों की पतासाजी के लिए जयपुर, राजस्थान रवाना किया गया.

टीम ने तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर दो आरोपियों राहुल राघव पिता स्व. जगपाल सिंह राघव और विकास शर्मा पिता काजोडमल शर्मा को जयपुर, राजस्थान से गिरफ्तार किया गया. आरोपी राहुल राघव ने बताया कि वह प्रायवेट कंपनी में बिजनेस एनालिस्ट के पद पर कार्यरत है. उसने अपने दोस्त विकास शर्मा के साथ बैंक के खाते में कुल 3,95,023 रुपए जमा कर प्रार्थी के साथ धोखाधड़ी की थी.

आरोपियों की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी देवरी नवीन बोरकर उपनिरीक्षक, सउनि अजित महोबिया, सायबर सेल से प्रधान आरक्षक रूमलाल चुरेन्द्र, आरक्षक पुरन प्रसाद देवांगन, आरक्षक संदीप यादव, आरक्षक विवेक शाही, आरक्षक राके की महत्वपूर्ण भूमिका रही.