गौठान शोर के दौर में मूक निरीह मवेशियों के दुखद मौत के लिए जिम्मेदार कौन

Chhattisgarh Crimes

पिथौरा। राष्ट्रीय राजमार्ग 53  में टोल प्लाजा के पास ग्राम झलप में एक बार फिर तेज रफ्तार ट्रक की ठोकर से फोरलेन में बैठे 5 मवेशी मारे गए ।

ज्ञात हो कि भारी भरकम टोल वसूलने वाली टोल कम्पनी नियमानुसार वाहनों के लिए रोड क्लियर नहीं करवा रही है, जिससे अक्सर फोरलेन पर मवेशी ट्रकों की ठोकर से मारे जाते हैं |

मिली जानकारी के अनुसार एन एच 53 ग्राम झलप के पास गुरुवार की रात एक अज्ञात ट्रक की ठोकर से 5 मवेशियों की मौत हो गयी। आरंग से रायपुर तक फोरलेन निर्माण के बाद से अब तक सैकड़ो मवेशियों की मौत हो चुकी है जबकि फोरलेन कंपनी की लापरवाही के कारण प्रतिदिन दुर्घटनाएं घटित हो रही है।

अब रोड क्लियर नहीं किया जाता

हाइवे में फोरलेन निर्माण के बाद टोल मैनेजर द्वारा बकायदा रोड क्लियर वाहन की सहायता से लगातार सड़क में बैठे मवेशी सहित सड़क के आसपास की बाधा हटाई जाती थी, परन्तु टोल मैनेजर के बदलते ही अब तेज रफ्तार चलने वाले इस फोरलेन सड़क पर मवेशियों और अन्य बाधाओ को हटाना बन्द कर दिया गया है। जिससे इस तरह की घटनाएं लगातार घटित हो रही हैं, जो कि अति दुखद हैं।