ट्रेव्हल्स एजेंट की मनमानी से मुरादाबाद में फंसे 35 तीर्थयात्री, संसदीय सचिव की पहल पर तीर्थयात्रियों को सकुशल पहुंचाया गया हरिद्धार

Chhattisgarh Crimes

महासमुंद। ट्रेव्हल्स एजेंट की मनमानी व दुर्व्यवहार से बीच मंझधार में फंसे चार धाम के यात्री संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर की पहल से सकुशल हरिद्धार पहुंच सके। वहीं तीर्थयात्रियों का पैसा लेकर एजेंट फरार हो गया। जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार महासमुंद से 35 लोगों का जत्था 22 दिन के चारधाम की यात्रा के लिए निकले थे। जिसमें महासमुंद के एक ही परिवार के नौ लोग शामिल थे। ट्रेव्हल्स एजेंट जांजगीर निवासी मयंक सिंग ठाकुर हरिओम ट्रेव्हल्स की बस में प्रत्येक यात्रियों से 30-30हजार रूपए एडवांस लेकर चार धाम की यात्रा में निकले थे।

महासमुंद से जांजगीर-बिलासपुर होते इलाहाबाद पहुंचने पर ट्रेव्हल्स एजेंट ने और पैसे की डिमांड की। नहीं देने पर बस की एसी को बंद कर दिया गया। वहीं उप्र के मुरादाबाद में ट्रेव्हल्स एजेंट मयंक सिंग ठाकुर शराब के नशे में तीर्थयात्रियों के बदसलूकी करते हुए सभी को नीचे उतार दिया और विवाद करने लगा।

ट्रेव्हल्स एजेंट की मनमानी का कुछेक तीर्थयात्रियों ने मोबाइल से वीडियो भी बनाया। तीर्थयात्रियों को समझ नहीं आ रहा था कि वे क्या करें। तभी महासमुंद के तीर्थयात्रियों ने महासमुंद विधायक व संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। जिस पर संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने तत्काल मुरादाबाद एसपी से संपर्क कर मामले की जानकारी दी। बाद इसके मुरादाबाज पुलिस प्रशासन तत्काल हरकत में आई और मोबाइल लोकेशन के आधार पर मौके पर पहुंची। तब तक ट्रेव्हल्स एजेंट मयंक सिंग ठाकुर मौके से फरार हो गया था। इधर पुलिस प्रशासन की मदद से तीर्थयात्रियों को हरिद्धार पहुंचाया गया।