आंध्र प्रदेश से खाद की बोरियों में आ रहा था 3 करोड़ का गांजा, इंदौर से आई टीम ने रायपुर में किया 5 तस्करों को गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। इंदौर से रायपुर आई डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस की टीम ने 1500 किलो गांजा बरामद किया है। इस गांजे की कीमत लगभग 3 करोड़ रुपए बताई जा रही है। टीम ने इस गांजे की तस्करी कर रहे पांच लोगों को गिरफ्तार भी किया है। सूत्रों के मुताबिक, यह कार्रवाई रविवार-सोमवार की देर रात अभनपुर इलाके में की गई है। इस कार्रवाई को गुप्त रखा गया था। स्थानीय पुलिस को भी इसकी जानकारी नहीं होने की बात सामने आ रही है। और अब इस मामले का खुलासा हुआ है। गांजे की इस बड़ी खेप को पकड़ने वाले डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस के इंदौर जोनल यूनिट की टीम ने बताया कि यह गांजा आंध्र प्रदेश के और अरकू वैली की तरफ से लाया जा रहा था।

गांजे की डिलीवरी महाराष्ट्र में होनी थी। पूरा गांजा ऑर्गेनिक खाद की बोरियों में छुपा कर लाया जा रहा था । ट्रक के आगे एक कार भी चल रही थी। ट्रक के बारे में टीम को जानकारी पहले ही मिल चुकी थी। खुफिया दस्ते ने अभनपुर के पास इस ट्रक को रोककर जांच की। जिसमें 1500 किलो गांजा बरामद किया गया। जिसकी कीमत 3 करोड़ है। इस मामले में ट्रक में सवार ट्रक और कार में सवार कुल 5 तस्करों को भी पकड़ा गया है। इनसे पूछताछ करके यह भी जानने की कोशिश की जा रही है कि यह गांजा किसे डिलीवर किया जाना था। डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस की टीम ने इस साल देश के अलग-अलग हिस्सों से 5800 किलो अवैध गांजा बरामद किया है और 21 लोगों को इसी तरह से गिरफ्तार किया है।

Chhattisgarh Crimes