सराफा कारोबारी हत्याकांड, सुपारी किलर सहित 4 गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

दुर्ग। जिले के अमलेश्वर थाना क्षेत्र में गुरुवार को दिनदहाड़े हुई सराफा व्यवसायी सुरेन्द्र सोनी (52 वर्ष) की हत्या की गुत्थी पुलिस ने लगभग सुलझा ली है। इस वारदात को लूट नहीं हत्या के इरादे से आरोपियों ने अंजाम दिया है। दिल्ली और झारखंड से दो सुपारी किलर आए और पूरी वारदात में कुल 6 लोग शामिल हैं, जिसमें से कल देर रात तक 4 पकड़ लिए गए हैं।

Chhattisgarh Crimes

आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है और संभावना है कि चंद घंटों बाद मामले की पूरी गुत्थी पुलिस सुलझा कर खुलासा करेगी। एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि घटना के कुछ घंटे बाद ही एक संदेही गौरव कुमार को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई। वह झारखंड का रहने वाला है, उसके साथ दिल्ली का एक और सुपारी किलर शामिल हैं। दोनों 18 अक्टूबर को प्रयागराज में मिले और वहां कार से सडक़ मार्ग से रीवा होते हुए रायपुर पहुंचे। आरंग में पहले से दो अन्य आरोपी पहुंचे हुए थे, जो कि सुपारी देने वाले आरोपी के साथ मिलकर पिछले चार दिन से वारदात की प्लानिंग करते रहे। दिल्ली और झारखंड से मुख्य शूटर आने के बाद दो दिनों तक इन्होंने आरंग में ही रहकर पूरी प्लानिंग की। कंप्लीट प्लानिंग के बाद कल वारदात को अंजाम दिया। आरंग से ही झारखंड नंबर वाली बाइक जब्त की गई है।

ये सुपारी किलिंग का मामला है, जिसमें मृतक के परिचित के शामिल होने की बात सामने आई है। वह शख्स सुरेंद्र कुमार सोनी की हर एक गतिविधि की बारीकी से जानकारी रखता था। एक ही गोली में सुरेंद्र सोनी के ढेर होने के बाद भी आरोपियों ने एकदम नजदीक से एक के बाद एक 5 गोलियां उनके सीने में दाग दीं। ज्ञात हो कि मृतक की अमलेश्वर के तिरंगा चौक में समृद्धि ज्वेलर्स नाम से सोने चांदी के आभूषणों की दुकान है। कल गुरुवार दोपहर दो युवक सामान्य ग्राहक बनकर दुकान में आए और सुरेन्द्र से कुछ गहने दिखाने को कहा। गहने निकालने वो रैक की ओर झुके, तभी दोनों युवकों ने उनका सिर पकडक़र जोर से काउंटर पर मारा और पिस्तौल निकाल ली। सुरेंद्र के ऊपर 5 गोलियां दाग दी। दोनों आरोपी काउंटर और दुकान में रखे जेवरात व नगदी लेकर चले गए।

सूत्रों के मुताबिक जिन दो आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया, वह झारखंड नंबर की बाइक से आए थे। उनकी बाइक आरंग से जब्त कर ली गई है। दोनों आरोपियों ने आगे जाकर दो अन्य सहयोगियों को लूट का माल दिया और वह लोग कार से निकले। उन्हें भी टोल प्लाजा से निकलते हुए ट्रेस कर लिया गया था और दोनों पुलिस की गिरफ्त में हैं। इनसे पूछताछ कर दो और लोगों को गिरफ्तार कर अब तक पूछताछ की जा रही है। मामले में दो से तीन और लोगों की सरगर्मी से तलाश जारी है, उनको पकड़ते ही जिला पुलिस मामले का खुलासा करेगी।