पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के खिलाफ छग यातायात महासंघ ने किया प्रदर्शन

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ यातायात महासंघ ने पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर मोर्चा खोल दिया है. रायपुर के पंडरी बस स्टैंड में छत्तीसगढ़ यातायात महासंघ का प्रदर्शन जारी है. जहां इनकी मांग है कि महंगाई को देखते हुए जल्द ही किराए में वृद्धि की जाए नहीं तो वे जल समाधि लेने को मजबूर होंगे.

छत्तीसगढ़ यातायात महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष अनवर अली ने बताया कि पेट्रोल डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि हो रही है, जिसकी वजह से बसों का संचालन मुश्किल हो रहा है. छत्तीसगढ़ में काफी ऐसे ही बसे हैं जो बंद है. काफी लोगों के रोजगार छिन गए हैं. कुछ तो ठेले गुमटियों में सब्जी बेचने को भी मजबूर है.

हम बीते 2 महीनों से राज्य सरकार से मांग कर रहे हैं कि किराए में वृद्धि की जाए. वह जो बस बंद पड़े हुए हैं, उस बस का टैक्स ना लिया जाए, लेकिन हमारी मांगों को अनसुना किया जा रहा है. यदि छत्तीसगढ़ सरकार इनकी मांगों को पूरा नहीं करती तो ये सभी रायपुर के महादेवघाट पर जल समाधि लेने को मजबूर होंगे.

छत्तीसगढ़ यातायात महासंघ के द्वारा 2 जुलाई को सभी जिला मुख्यालय के कलेक्टरों को ज्ञापन सौंपा जाएगा. 8 जुलाई को पूरे प्रदेश के जिला मुख्यालय में बस संचालक अपने परिवार, चालक, परिचालक, हेल्पर, क्लीनर के साथ बसों की बारात निकालकर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपेंगे.

12 जुलाई को बूढ़ा तालाब में धरना स्थल में पूरे प्रदेश के सभी बस संचालक अपने परिवार, चालक, परिचालक, हेल्पर, क्लीनर के साथ एक दिवसीय महाधरना देंगे. 13 जुलाई को पूरे प्रदेश की बसों को अनिश्चितकालीन के लिए बंद कर दिया जाएगा. यदि इनकी मांगे पूरी नहीं होती तो 14 जुलाई को सभी बस संचालक दोपहर 3 बजे खारुन नदी के तट पर जल समाधि लेंगे.