मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंत्रिमंडल में फेरबदल को लेकर दिया बड़ा बयान

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ में जल्द ही मंत्रियों के विभाग बदले जाएंगे और तो और कई मंत्रियों को उनके पदों से मुक्त करके नए मंत्रियों को शपथ दिलाई जाएगी। सियासी गलियारों में इस तरह की खबर आग की तरह फेैल रही है। खबर तो ये भी है कि कद्दावर मंत्रियों के विभाग में भी कटौती की जाएगी। लेकिन इससे पहले कि छत्तीसगढ़ के मंत्रिमंडल में उठापटक हो खुद सीएम बघेल ने बड़ा बयान दे दिया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज से बस्तर, कोण्डागांव जिले के दौरे पर रहेंगे। बस्तर रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री ने मीडिया से बात की। इस दौरान सीएम ने मंत्रिमंडल में फेरबदल को लेकर बड़ा बयान दिया है। सीएम ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि अभी मंत्रिमंडल में फेरबदल की कोई संभावना नहीं है।

हम सामूहिक जिम्मेदारी के साथ काम कर रहे हैं। इस मामले में हाईकमान के निर्देश का पालन करेंगे। इस दौरान सीएम ने छत्तीसगढ़ RSS नेतृत्व में परिवर्तन मामले में बयान दिया।

उन्होंने कहा कि बस्तर, कोंडागांव और कांकेर में इस समय दौरे पर रहेंगे. वहां फॉरेस्ट राइट एक्ट के तहत पट्टा कितना मिला है या नहीं. शासकीय योजनाओं का लाभ हितग्राहियों को मिला या नहीं. जो विकास कार्य किया उसके शिलान्यास लोकार्पण का भी काम उसमें होगा. देवगुड़ी के लिए राशि हमने दी है, घोटुल को लेकर भी राशि स्वीकृत की है.

धरमलाल कौशिक के सावरकर को पढ़ने के बार में मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि सावरकर के बारे में पांच लाइन बता दें कि पहली बात तो यह है कि वह आस्तिक की नास्तिक है. दूसरा गाय के बारे में उनके विचार क्या है इसके बारें में बता दें. यह दो लाइन बता दे तीसरा यह बता दे कि वो अंग्रेजों से माफी कितने बार मांगे है और जेल से छूटने के बाद वो एक बार भी आजादी की लड़ाई में भाग नहीं लिए हैं. अंग्रेजों के खिलाफ एक शब्द नहीं कहा. यह चार-पांच सवाल है जिसका जवाब दे दें.