मुख्यमंत्री ने रायगढ़ दौरे के दौरान किया 403 करोड़ रुपये के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास

Chhattisgarh Crimes

रायगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को अपने रायगढ़ दौरे के दौरान 403 करोड़ रुपये के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। यहां उन्होंने विभिन्न योजनाओं की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने स्वास्थ्य केंद्रों में डॉक्टर के सभी रिक्त पदों पर भर्ती करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को ये भी सुनिश्चित करने को कहा कि फ्लाई एश से नदियों का पानी प्रदूषित नहीं हो पाए।

सीएम भूपेश बघेल ने हाथी प्रभावित क्षेत्रों में नरवा का काम तेजी से करने के निर्देश भी दिए। कहा कि अगर पानी की सुविधा होगी, तो हाथी रिहायशी इलाकों में नहीं आएंगे। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि वॉटर रिचार्ज के लिए तेजी से काम करें। उन्होंने महिलाओं और बच्चों में कुपोषण दूर करने पर बल दिया।

सीएम भूपेश बघेल ने जर्जर सड़कों को ठीक करने का काम तेजी से करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए जो भी राशि लगेगी, उसे उपलब्ध कराया जाएगा।

पत्रकारों के लिए घोषणा

मुख्यमंत्री ने यहां एक प्रेस वार्ता को भी संबोधित किया। उन्होंने कलेक्टर को पत्रकारों के आवास के लिए भू-खंड सस्ती दर पर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने प्रेस क्लब भवन के लिए 20 लाख रुपए स्वीकृत करने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने मीडियाकर्मियों को बताया कि जर्जर स्कूल भवनों को ठीक करने के लिए 500 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। वहीं बच्चों के लिए खेल मैदान भी आरक्षित किए जा रहे हैं। उन्होंने रायगढ़ नगर निगम को सड़कों को ठीक करने के लिए 10 करोड़ रुपए देने की भी घोषणा की।

निवेशकों को पैसा वापस करने वाला छत्तीसगढ़ पहला राज्य- भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि चिटफंड डायरेक्टर पर लगातार कार्रवाई हो रही है। 600 से अधिक डायरेक्टर जेल में हैं। निवेशकों का पैसा भी उनके खाते में जा रहा है। छत्तीसगढ़ पहला राज्य है, जो चिटफंड मालिकों की संपत्ति कुर्क करके निवेशकों को पैसा वापस कर रहा है।

सीएम ने कहा कि विपक्ष के साथी गोबर खरीदी की आलोचना कर रहे हैं, जबकि हाल ही में प्रधानमंत्री जी ने भी हमारी सरकार की योजना की तारीफ की है। सीएम ने कहा कि रायगढ़ के विकास में पैसों की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

डीए के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि क्या महंगाई किसानों के लिए नहीं है, मजदूर के लिए नहीं है, पत्रकारों के लिए नहीं है, आम जनता के लिए नहीं है। हम शनिवार और रविवार की छुट्टी दे रहे हैं, ओल्ड पेंशन स्कीम भी लागू की है। उन्होंने कर्मचारियों से फिर से काम पर वापस लौटने की अपील की। नौकरी के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि हम शिक्षकों और पुलिस विभाग में लगातार भर्तियां कर रहे हैं।

एक सवाल के जवाब में सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि मैं सवाल करता हूं कि हम राजीव गांधी किसान न्याय योजना में किसानों को लाभ दे रहे हैं, मुफ्त में लोगों का इलाज करा रहे हैं, बच्चों को स्वामी आत्मानंद स्कूलों में पढ़ा रहे हैं, ये सब रेवड़ी हैं क्या। उन्होंने कहा कि देश में भाजपा की सरकार है, जो जनता का हक मार रही है। हर बार जब चुनाव आता है, तो मोदी जी रेवड़ी का सपना दिखाते हैं। रेवड़ी दिखाकर मोदी जी वोट ले लेते हैं और जनता चुनाव के बाद खुद को ठगा सा महसूस करती है। हमने भी रेवड़ी दिखाया था, मगर हम बांट भी रहे हैं। जनता हमारे काम से संतुष्ट है।

धर्म-जाति के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में साम्प्रदायिकता की कोई जगह नहीं है, ये यहां की जनता कई बार बता चुकी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महीनों से रद्द हो रही ट्रेनों को लेकर भी निशाना साधा।