ED के छापे पर बोले सीएम भूपेश – बीजेपी नहीं लड़ पा रही सीधी लड़ाई, 6000 करोड़ के चिटफंड घोटाला पर क्यों नहीं हो रही कार्रवाई

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ में ED की ताबड़तोड़ छापेमारी हुई है. IAS अफसर, कोयला कारोबारी औऱ कांग्रेस नेता के ठिकानों पर ED ने दबिश दी है. इन सभी को लेकर छत्तीसगढ़ के सीएम बघेल ने बड़ा बयान दिया है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा सीधी लड़ाई नहीं लड़ पा रही है. इसलिए सेंट्रल एजेंसियों का सहारा ले रही है.

सीएम बघेल ने कहा कि ईडी-आईटी की कार्रवाई से डराने की कोशिश कर रही है. चुनाव तक इस तरह की कार्रवाई होगी, लेकिन जनता जान चुकी है. केंद्र में बैठी भाजपा सरकार कैसे सेंट्रल एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है. 6 हजार करोड़ के चिटफंड घोटाला पर ईडी-आईटी की कार्रवाई क्यों नहीं होती ?

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आज रायपुर, दुर्ग, रायगढ़ और महासमुंद के कई ठिकानों पर दबिश दी है. ईडी ने रायपुर में कोयला कारोबारी सूर्यकांत तिवारी, महासमुंद में रहने वाले उनके ससुर और पूर्व कांग्रेसी विधायक अग्नि चंद्राकर, अजय नायडू, रायगढ़ कलेक्टर रानू साहू, सनी लुनिया, बादल मक्कड़, देवेंद्र नगर में रहने वाले सीए वियज मालू, कोयला व्यापारी सुनील अग्रवाल, कोयला व्यपारी जय अम्बे ट्रांसपोर्ट के पार्टनर नवनीत तिवारी, शराब कारोबारी अमोलक भाटिया के ठिकानों पर छापे की कार्रवाई की है.