छत्तीसगढ़ का कांग्रेस नेता 2 महिला माओवादियों का इलाज करवाने तेलंगाना लेकर गया था, पुलिस ने पकड़ा

Chhattisgarh Crimes

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के पड़ोसी राज्य तेलंगाना में 2 महिला माओवादियों के साथ बीजापुर के एक कांग्रेसी नेता को पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई की है। कांग्रेसी नेता का नाम के.जी सत्यम है जो बीजापुर जिले के भोपालपट्टनम ब्लॉक कांग्रेस कमेटी का महामंत्री है।

बताया जा रहा है कि, 2 महिला माओवादियों का इलाज करवाने तेलंगाना के वारंगल लेकर जा रहा था। इसी बीच पुलिस ने हनमाकोंडा के पास तीनों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस कर रही पूछताछ

सूत्र बता रहे हैं कि, इनसे पुलिस अभी भी पूछताछ कर रही है। पूछताछ के बाद ही मामले का खुलासा हो पाएगा। हालांकि, जो दो महिला माओवादी हैं वह किस कैडर की हैं, इसके बारे में अभी जानकारी सामने नहीं आ सकी है। इन्हें अभी वारंगल में हिरासत में रखा गया है।

15 साल से बीजापुर कांग्रेस में सक्रिय है सत्यम

जिस केजी सत्यम को तेलंगाना पुलिस ने महिला नक्सलियों के साथ गिरफ्तार किया है। वह बीजापुर कांग्रेस का पुराना कार्यकर्ता है। महामंत्री बनने से पहले वह बीजापुर में पार्टी का उपाध्यक्ष था। इसके साथ ही कई अलग-अलग जिम्मेदारियां संभालता था। वह मूलतः नरवापल्ली, भोपालपट्टनम का रहने वाला है। वहां उसकी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्य भी रहते हैं। सत्यम राजनीति के साथ-साथ सिंचाई, पंचायत और अन्य विभागों में ठेकेदारी का काम भी करता है।

बताया जा है कि कांग्रेसी नेता बीजापुर के विधायक विक्रम मंडावी का करीबी है। तकरीबन हर कार्यक्रम में वह विधायक के साथ देखा जाता था। सोशल मीडिया में दोनों के साथ की कई तस्वीरें भी अपलोड है। पुलिस अब सत्यम के विषय में पूरी जानकारी निकाल रही है। इसके लिए तेलंगाना से एक टीम बीजापुर और बस्तर के पुलिस अधिकारियों के संपर्क में है।