क्राईम ब्रांच का अधिकारी-कर्मचारी बताकर कर रहे थे लूटपाट, रायपुर पुलिस ने किया गिरोह का भंडाफोड़

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। पुलिस ने 2 अंतर्राज्यीय आरोपियों सहित 4 युवकों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक प्रार्थी रिजवान अली ने थाना गुढ़ियारी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह जिला बुलंद शहर उत्तर प्रदेश का रहने वाला है तथा सिविल कन्सट्रक्शन का काम करता है। वे अपने भाई इजहार के साथ मार्केटिंग के काम से रायपुर आया था।

इसी दौरान प्रार्थी एवं उसका भाई गोगांव स्थित गति ट्रांसपोर्ट पास आटो से उतरे तभी शाम करीबन 05.00 बजे प्रार्थी के पीछे से दो मोटर सायकल में सवार चार व्यक्तियों ने प्रार्थी एवं उसके भाई को रोककर प्रार्थी से उसके पास रखें बैग में क्या रखे हो पूछते हुये प्रार्थी के बैग को चेक करने लगे। प्रार्थी द्वारा कौन हो पूछने पर स्वयं को क्राईम ब्रांच का होना बताकर जबरदस्ती प्रार्थी के बैग को खुलवाकर उसमें रखें नगदी रकम 25,000/- रूपये को लूट कर फरार हो गये। जिस पर थाना गुढ़ियारी में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध अपराध क्रमांक 355/22 धारा 392 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट तथा थाना गुढ़ियारी पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा घटना के संबंध में प्रार्थी, उसके भाई सहित आस-पास के लोगों से विस्तृत पूछताछ करते हुए आस-पास के लोगों से भी पूछताछ कर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी करना प्रारंभ किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण करते हुए घटना स्थल एवं उसके आस-पास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन किया गया।

टीम के सदस्यों द्वारा तरीका वारदात के आधार पर लूट के पुराने आरोपियों की पतासाजी करने के साथ ही हाल ही में जेल से रिहा हुए लूट/चोरी के भी आरोपियों के संबंध में तस्दीक की जा रही थी। प्रकरण में मुखबीर लगाने के साथ ही अज्ञात आरोपियों द्वारा घटना में उपयोग किये जाने वाले दोपहिया वाहनों के संबंध में भी जानकारी एकत्र कर अज्ञात आरोपियों को चिन्हांकित करने के प्रयास किये जा रहे थे। इसी दौरान अज्ञात आरोपियों की गिरफ्तारी में लगी टीम को घटना में संलिप्त सरोरा उरला निवासी उपेन्द्र यादव के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई, जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा उपेन्द्र यादव की पतासाजी कर पकड़ा गया।

घटना के संबंध में उपेन्द्र यादव से पूछताछ करने पर उसके द्वारा किसी भी प्रकार से घटना में अपनी संलिप्तता नहीं होना बताकर लगातार टीम को गुमराह कर रहा था, कि प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर कड़ाई से पूछताछ करने पर उपेन्द्र यादव अपने झूठ के सामने टिक न सका और अंततः अपने साथी विक्की साहू, आबिद हुसैन एवं मुकीम खान के साथ मिलकर स्वयं को क्राईम ब्रांच से होना बताकर प्रार्थी के साथ लूट की उक्त घटना को कारित करना स्वीकार किया गया। जिस पर घटना में संलिप्त आरोपी विक्की साहू, आबिद हुसैन एवं मुकीम खान को भी पकड़ा गया।

चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लूट की नगदी रकम 20,000/-रूपये एवं घटना में प्रयुक्त 02 नग मोटर सायकल जप्त कर आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही किया गया।

गिरफ्तार आरोपी

01. उपेन्द्र यादव पिता राम प्रसाद यादव उम्र 30 साल निवासी मण्डलपारा सरोरा थाना उरला रायपुर।

02. विक्की साहू पिता विजय साहू उम्र 19 साल निवासी नेहरू चैक सरोरा थाना उरला रायपुर।

03. आबिद हुसैन पिता जाकिर हुसैन उम्र 20 साल निवासी म्याउ थाना आल्हापुर जिला बदायूं उ.प्र. हाल पता – शांति नगर राजनांदगांव जिला राजनांदगांव।

04. मुकीम खान पिता मुजीम खान उम्र 30 साल निवासी म्याउ थाना आल्हापुर जिला बदायूं उ.प्र. हाल पता – शांति नगर राजनांदगांव जिला राजनांदगांव।