बच्चा चोरी के संदेह में पांच युवकों को भीड़ ने पीटा, युवकों ने छिपकर बचाई जान

Chhattisgarh Crimes

भिलाई। बच्चा चोरी के संदेह में तीसरी बार मारपीट की घटना हुई है। इस बार दुर्ग कोतवाली थाना क्षेत्र के गंजपारा में मोहल्ले वालों ने पांच युवकों की पिटाई कर दी। पांच में से तीन युवक दिल्ली के रहने वाले हैं। वहीं दो युवक करीब चार साल से गंजपारा में किराये पर रहते हैं। बाकि के तीन युवक उनके पास ही आए थे। मोहल्ले वालों का आक्रोश देखकर सभी ने किराये के मकान में भागकर छिपे और अपनी जान बचाई। सूचना मिलने पर दुर्ग कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सभी को रेस्क्यू किया। साथ ही मारपीट करने वाले अज्ञात आरोपितों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर रही है।

जानकारी के अनुसार माारपीट की ये घटना शनिवार की रात करीब 11 बजे की है। गंजपारा दुर्ग में दो युवक करीब चार साल से किराये पर रहकर फेरी लगाकर दरी और कंबल आदि बेेचने का काम करते थे। ज्यादा समय वे धंधे के लिए बाहर ही रहते थे। इसलिए मोहल्ले वालों से बहुत ज्यादा संंपर्क नहीं था। दीपावली पर धंधा करने के लिए उन्होंने अपने कुछ परिचितों को दिल्ली से बुलवाया था। वे सभी शनिवार की रात को होटल से खाना खाकर घर लौट रहे थे।

इसी दौरान मोहल्ले के कुछ लोगों ने उन्हें देखा और रात में अनजान लोगों की सक्रियता देखकर उन्हें बच्चा चोर समझकर उनकी पिटाई कर दी। मोहल्ले वाले उन्हें दौड़ाकर पीट रहे थे। वे लोग किसी से भागे और अपने मकान में जाकर छिपकर अपनी जान बचाई। इसके बाद उन्होंने पुलिस को फोन किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पांचों युवकों को वहां से निकाला और रात में ही जिला अस्पताल ले जाकर उनका उपचार कराया। अभी मुलाहिजा रिपोर्ट केे आधार पर मारपीट करने वाले लोगों के खिलाफ प्राथमिकी की जा रही है। इसके बाद आरोपितों को चिह्नित कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

जिले में तीसरी बार हुई घटना

यहां उल्लेखनीय है कि बच्चा चोरी के संदेह में मारपीट की ये तीसरी घटना हुई है। जिले में सबसे पहली घटना दशहरा के दिन हुई थी। जिसमें चरोदा बस्ती के लोगों ने भगवाधारी तीन युवकों की बेदम पिटाई की थी। इसके बाद तीन दिन पहले मचांदुर चौकी क्षेत्र के ग्राम खोपली डीह पारा कुछ लोगों ने एक विक्षिप्त को बच्चा चोर समझकर पीट दिया था। इसके बाद शनिवार की रात को गंजपारा में तीसरी घटना हुई है।

दुर्ग कोतवाली के थाना प्रभारी एसएन सिंह ने कहा, शनिवार की रात को गंजपारा में मारपीट की ये घटना हुई है। वहां पर पूर्व में चार साल से रहने वाले दो युवकों की थाना में मुसाफिरी भी दर्ज है। लेकिन, मोहल्ले वाले उन्हें पहचानते नहीं थे। उनके साथ रहने आए युवकों को भी नहीं जानता था। इसलिए ये घटना हुई है। मारपीट करने वाले अज्ञात आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी की जा रही है।