मां ने राशन नहीं दिया तो बेटे ने कर दी हत्या, बालोद पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी

Chhattisgarh Crimes

बालोद. जिले के गुरुर थाना क्षेत्र में अंधे कत्ल की गुत्थी को बालोद पुलिस ने सुलझा ली है. बेटा ही मां का हत्यारा निकला. 50 से अधिक ऑटो वालों से पूछताछ करने के बाद पुलिस हत्यारे तक पहुंची. पुलिस को 14 जून को गुरुर के बोहारडीही गांव में एक महिला की लाश उसके घर में सड़ी गली हालत में मिली थी. जांच में पता चला कि महिला की हत्या हुई है. इसके बाद पुलिस की टीम आरोपी की तलाश में जुटी थी.

मृतक महिला कुमारी बाई अकेली रहती थी. गुरुर पुलिस ने बॉडी में चोट के निशान मिलने पर हत्या का मामला दर्ज कर जांच में जुटी थी. गांव में पूछताछ कर मुखबिर लगाई गई. मां के हत्यारे बेटे 25 वर्षीय आकाश कुमार पिता स्वर्गीय सुरेश कुमार को धमतरी के रत्नाबांधा से गिरफ्तार किया गया. आरोपी 11 जून की रात अपनी मां की हत्या कर धमतरी फरार हो गया था. जांच के दौरान 50 से अधिक ऑटो चालक से पूछताछ की गई. गुरुर से धमतरी तक कई सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए तब जाकर पुलिस आरोपी तक पहुंची.

आरोपी हत्यारे बेटे ने बताया कि उसकी मां दूसरांे के साथ घूमती फिरती थी, जो उसे पसंद नहीं था. मां राशन सामान नहीं देती थी. इस वजह से मां की चाकू से गोदकर हत्या कर दी. आरोपी के कब्जे से चाकू और खून से सने कपड़ों को बरामद किया गया है. एसपी जितेंद्र कुमार यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रज्ञा मेश्राम के मार्गदर्शन में अंधे कत्ल को सुलझाने में थाना प्रभारी भानुप्रताप साव, धरम भुवार्य, भुनेश्वर मरकाम, राहुल मनहेर, संदीप यादव, राजेंद्र साहू, सुनील बघेल, योगेंद्र सिन्हा, पूरन देवांगन, मिथलेश यादव ने अहम भूमिका निभाई.