गले में खिचखिच बढ़ा रहा है मास्क का उपयोग? यह रहा समस्या का समाधान

Chhattisgarh Crimes

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से बचने के लिए फेस मास्क का उपयोग बेहद जरूरी है। क्योंकि यह इस वायरस के संक्रमण से बचने का सबसे सस्ता और प्रभावी तरीका है। लेकिन हमारे बीच ऐसे बहुत सारे लोग हैं, जिन्हें मास्क पहनने के कारण गले दर्द, खिचखिच (असहजता), रूखापन और जलन जैसी समस्याएं हो रही हैं। अगर आप भी इस तरह की दिक्कतों का सामना कर रहे हैं तो यहां जानिए इनसे बचने का तरीका…

क्या मास्क से हो रहा है गले में इंफेक्शन?

लंबे समय तक मास्क पहने रहने के बाद गले की समस्याओं से जूझ रहे लोगों के मन में पहला सवाल यही आता है कि उनके गले में जलन, दुखन या इरिटेशन मास्क पहनने के कारण हो रही है। तो हम आपको बता दें कि इन समस्याओं की वजह मास्क से जुड़ी हाइजीन है।

दरअसल, मास्क पहनने से सोर थ्रोट की समस्या नहीं होती है। लेकिन अनहाइजीनिक मास्क पहनने से इस तरह की समस्या होती है। यानी आपको अपने मास्क की गहरी सफाई का ध्यान रखा होगा। उसे पूरी तरह डिसइंफेक्ट करना होगा। यदि मास्क की उचित सफाई नहीं हो पाती है तो उसके रेशों में हानिकारक बैक्टीरिया पनप सकते हैं, जो आपके गले में कई तरह की समस्याओं का कारण बन सकते हैं।

लगातार फेस मास्क पहनने से गले में समस्या का कारण

रीयूजेबल मास्क को डिसइंफेक्ट करना
जिन मास्क को आप एक बार उपयोग में लाने के बाद धुलकर दोबारा उपयोग कर सकते हैं, उन्हें रीयूजेबल मास्क कहते हैं। लेकिन इन मास्क को केवल साधारण पानी से धो देना काफी नहीं होता है।
मास्क धोने के लिए आपको गर्म पानी का उपयोग करना चाहिए। आप मास्क को 5 से 10 मिनट के लिए गर्म पानी में डुबोकर रख दें और इसके बाद साबुन इस इस मास्क को धुल दें।

आपको अपना मास्क सूरज की तेज रौशनी में सुखाना चाहिए। मास्क को कुल 4 से 5 घंटे तक तेज धूप में सूखने दें। इसके बाद इसे उपयोग में लाने से पहले एक बार प्रेस (आयरन) कर लें तो और भी बेहतर होगा।

मास्क को हाथ लगाने से पहले करें सैनिटाइजर का उपयोग

  • जब धूप में सुखाना संभव ना हो
  • यदि आपके घर में धूप आने की व्यवस्था नहीं है या किसी अन्य कारण से आप मास्क को धूप में नहीं सुखा पा रहे हैं तो आप मास्क को गर्म पानी में धुल लें। इसके बाद इसे 15 मिनट के लिए डेटॉल में भिगोकर रख दें।
  • अब इस मास्क को हल्के हाथों से निचोड़कर सुखा लें। सुखाने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करें जहां हवा की उचित व्यवस्था हो। ताकि मास्क में नमी के कारण किटाणु ना पनप सकें।
  • जब मास्क पूरी तरह सूख जाए तो आप इस पर तेज आयरन का उपयोग करें और 3 से 4 मिनट प्रेस करने के बाद आप इस मास्क को उपयोग कर सकते हैं। इससे आपको गले में किसी तरह की जलन, खराश या असहजता का सामना नहीं करना पड़ेगा।

मास्क को बार-बार हाथ लगाना

मास्क पहनने के बाद बातचीत के दौरान आपका मास्क डिस्टर्ब हो सकता है। लेकिन इसे ठीक करने से पहले अपने हाथों को सैनिटाइज करना ना भूलें। यदि आपके बहुत सारी चीजों को इस दौरान छुआ है तो बेहतर होगा कि आप हाथों को साबुन से धुलने के बाद ही अपने मास्क को अजेस्ट करें।