गलतियां हुईं… PM बनने के बाद पहले संबोधन में लिज ट्रस को सुना गए ऋषि सुनक

Chhattisgarh Crimes

लंदन। तीन महीने के अंदर ब्रिटेन के तीसरे पीएम बनने वाले ऋषि सुनक ने अपनी प्राथमिकताएं गिनाई हैं। सरकार गठन के लिए किंग चार्ल्स तृतीय के आमंत्रण पर मिलने पहुंचे ऋषि सुनक ने मीटिंग के बाद बताया कि वह कैसे ब्रिटेन को आगे लेउन्ह जाएंगे। 10, डाउनिंग स्ट्रीट के बाहर मीडिया से बात करते हुए सुनक ने कहा कि गलतियों को अब सुधारने की शुरुआत होगी। भारतीय मूल के पहले पीएम बनने वाले सुनक ने कहा कि मैं अपने देश को एकजुट करूंगा और नागरिकों का भरोसा जीतूंगा। उन्होंने कहा कि भरोसा तो कमाया जाता है और मैं यह हासिल करूंगा। उन्होंने कहा कि मैं उन चुनौतियां का सामना करूंगा, जो देश के सामने हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह भी संकेत दे दिए कि जनता मुश्किल फैसलों के लिए तैयार रहे।

ऋषि सुनक ने साफ किया कि हमें कुछ कठिन फैसले भी लेने होंगे। इस दौरान ऋषि सुनक ने अपने से पूर्व पीएम रहीं लिज ट्रेस की तारीफ भी की। सुनक ने कहा कि मैं लिज ट्रस के अथक परिश्रम के लिए उनकी तारीफ करता हूं, लेकिन कुछ गलतियां भी हुई हैं। उन्होंने कहा कि हमारा देश कोरोना संकट के बाद से ही आर्थिक किल्लत झेल रहा है। सुनक ने कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच छिड़े युद्ध ने इसमें और इजाफा कर दिया है। बता दें कि ऋषि सुनक ब्रिटेन के वित्त मंत्री भी रहे हैं। ऐसे में उनसे यह भी सवाल पूछे जा रहे हैं कि वह कैसे ब्रिटेन के आर्थिक हालातों को सही करेंगे।

ब्रिटेन के 210 सालों के इतिहास में ऋषि सुनक सबसे युवा पीएम होंगे। आज अपनी कंजरवेटिव पार्टी के नेताओं को संबोधित करते हुए ऋषि सुनक ने कहा कि मैं पीएम बनाए जाने से गौरव का अनुभव कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए वक्त है कि ब्रिटेन में जो हासिल किया है, उसे वापस करूं। यही नहीं सुनक ने यह भी स्वीकार किया है कि ब्रिटेन के लिए चुनौती पूर्ण दौर चल रहा है। सुनक ने कहा कि यूक्रेन युद्ध का अब समापन हो जाना चाहिए। अर्थव्यवस्था को लेकर सुनक ने कहा कि हम ब्रेग्जिट के बाद के हालातों को भुनाने के प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि हमने पार्टी के घोषणापत्र में जो वादे किए थे, उन्हें पूरा करने का प्रयास करेंगे।