अफसर फैमिली: 5 बहनें बनीं प्रशासनिक अधिकारी, तीन बहनों ने एक साथ पास की परीक्षा

Chhattisgarh Crimes

जयपुर। राजस्थान के हनुमानगढ़ की तीन बहनों ने एक साथ ही राज्य प्रशासनिक सेवा की परीक्षा पास की है। इस सफलता के साथ ही उन्होंने पहले से अफसर बनीं अपनी दो बहनों को जॉइन कर लिया है। इस तरह से एक ही परिवार से 5 बहनें राजस्थान प्रशासनिक सेवा की अधिकारी बन गई हैं। भारतीय वन सेना के अधिकारी प्रवीण कसवान ने इस खबर को ट्विटर पर तीनों बहनों की तस्वीर के साथ शेयर किया है। कसवान ने ट्वीट किया, ‘एक बेहद अच्छी खबर है। अंशु, रीतु और सुमन राजस्थान प्रशासनिक सेवा की अधिकारी बन गई हैं, हनुमान गढ़ की रहने वाली हैं। तीनों ने आज ही एक साथ राजस्थान प्रशासनिक सेवा की परीक्षा पास की है।’

प्रवीण कसवान ने लिखा, ‘तीनों ने अपने माता-पिता को गर्व का यह क्षण दिया है। ये 5 बहनें हैं, जिनमें से दो रोमा और मंजू पहले ही आरएएस अफसर हैं। इस तरह अब सहदेव सहरन की पांचों बेटियां अब प्रशासनिक अधिकारी बन गई हैं।’ प्रवीण कसवान के इस ट्वीट को अब तक बड़ी संख्या में लोग लाइक और ट्वीट कर चुके हैं। यही नहीं सोशल मीडिया पर लोग इन बहनों की जमकर तारीफ कर रहे हैं। राजस्थान पब्लिक सर्विस कमिशन की ओर से मंगलवार को राजस्थान प्रशासनिक सेवा 2018 का परिणाम मंगलवार को जारी किया था, जिसमें तीनों बहनों का सलेक्शन हुआ है।

इस परिणा में झुंझुनू की मुक्ता राव ने टॉप किया है, जबकि टोंक के मनमोहन शर्मा दूसरे और जयपुर की शिवाक्षी खंडाल तीसरे नंबर पर आए हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी राज्य प्रशासनिक सेवा में टॉप करने वाले लोगों को ट्वीट कर शुभकामनाएं दी हैं। सीएम अशोक गहलोत ने लिखा, ‘झुंझुनू की मुक्ता राव को आरएएस एग्जाम में टॉप करने पर बधाई। टोंक के मनमोहन शर्मा और जयपुर की शिवाक्षी खंडाल को भी शुभकामनाएं। इसके अलावा परीक्षा में पास होने वाले अन्य सभी अभ्यर्थियों को भी बधाई। यह राज्य की समर्पण के साथ सेवा करने का सुनहरा मौका है। मेरी सभी को शुभकामनाएं।’