जादू-टोना के शक में युवक ने विधवा को उतारा था मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

कवर्धा। जिले के थाना कुकदूर में पुलिस को सूचना मिली कि ग्राम दैहानटोला में सखीनाबाई के घर आग लगी है. सूचना पर कुकदूर पुलिस मौके पर पहूंचकर घटनास्थल का मुआयना कर घर अंदर सखीना बाई की लाश संदिग्ध अवस्था में जली हुई मिली. इसके बाद थाना कुकदूर पुलिस ने विशेषज्ञ टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण किया. मौके से सामान की जप्ती और शव पंचनामा कार्रवाई करने के बाद प्रथम दृष्टया अज्ञात व्यक्ति द्वारा बल्ली के टुकड़ा से प्राण घातक हमला कर सखीना बाई की हत्या कर आग से जला देने पाए जाने से अपराध केस दर्ज कर विवेचना में लिया गया.

Chhattisgarh Crimes

पुलिस ने तेजी से की जांच-पड़ताल अज्ञात आरोपी द्वारा विधवा बुजुर्ग महिला को वीभत्स तरीके से जघन्य हत्या करने के गंभीर प्रकरण को देखते हुए जिले के एसपी लाल उमेद सिंह और एडिशन एसपी मनीषा ठाकुर मामले को गंभीरता में लेते हुए त्वरित कार्रवाई कर आरोपी की पतासाजी किए जाने आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. विशेष टीम ने प्रकरण के प्रत्येक पहलु पर बारिकी से विश्लेषण कर और क्षेत्र के विश्वनीय मुखबीरों के माध्यम से प्रकरण के अज्ञात आरोपी के संबंध में तथ्य संकलित किया गया, जिस प्रकार से जघन्य हत्या की गई उसे पकड़ने के लिए घटना के हर पहलुओं पर प्रयास किया गया.

विशेष टीम को विश्वनीय मुखबिरों के माध्यम से ग्राम पिपरहा के परमेश्वर परस्ते का मामले में संलिप्तता होने की पुष्टिकृत जानकारी मिली, जिस पर विवेचना टीम ने परमेश्वर परस्ते से बारिकी से पूछताछ की. पूछताछ पर परमेश्वर परस्ते ने बताया कि एक वर्ष पूर्व दैहानटोला की लड़की के साथ उसका रीति रिवाज से विवाह हुआ था, विवाह के कुछ दिनों बाद से उसकी पत्नी का तबीयत खराब रहने से अंधविश्वास के कारण परमेश्वर अपने पत्नि को ईलाज के लिए अलग-अलग जगहों में झाड़-फूंक के लिए बैगा के पास जाने लगा फिर भी उसकी पत्नी के तबियत में कोई सुधार नहीं होने पर अंधविश्वास के कारण परमेश्वर परस्ते अपने ससुराल ग्राम दैहानटोला ससुराल घर के पास में ही रहने वाली बेवा महिला मृतिका सखीना बाई पर उसकी पत्नी को जादू-टोना कर तबियत खराब करने के शक में 09.05.2022 की रात आग विधवा महिला को मौत के घाट उतार दिया.

मौत के घाट उतारने के बाद विधवा को किया आग के हवाले

आरोपी परमेश्वर परस्ते ने बताया कि दैहानटोला में परिचित के यहां शादी में शामिल होने आया था. उसी शादी घर में जब उसने सखीना को देखा तो अंदर ही अंदर गुस्से से भरकर रात में ही सखीना को जान से खत्म करने ठान लिया और देर रात का इंतजार कर विधवा महिला के घर के पीछे खेत के रास्ते से उसके मकान की खुली खिड़की से होते हुए घर में घुस गया. जहां महिला बरामदे में खाट पर सोई थी. महिला के सोये हालत में ही परमेश्वर परस्ते ने पास में पड़े बल्ली का टुकड़ा उठाकर निर्ममता पूर्वक मृतिका के सिर पर प्राण घातक हमला कर हत्या कर दी. इसके बाद महिला के खाट के नीचे आग लगाकर वहां से फरार हो गया.

पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

प्रकरण में आरोपी की अपराध स्वीकारोक्ती और साक्ष्य के आधार पर आरोपी परमेश्वर परस्ते को धारा 302, 201, 449 भादवि एवं 04,05, छत्तीसगढ़ टोनही प्रताड़ना निवारण अधिनियम के अंतर्गत विधिवत् गिरफ्तार न्यायिक रिमांड पर भेजा गया. वनांचल क्षेत्र में हुए इस हृदयविदारक घटना के बाद से लोगों में दहशत का माहौल था. जिसे पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज दुर्ग एवं पुलिस अधीक्षक कबीरधाम के दिशा-निर्देश में तैयार विवेचना टीम द्वारा उत्कृष्ट पुलिसिंग और लगातार प्रयास कर अल्प समय में आरोपी को साक्ष्य के साथ गिरफ्तार करने में सफल हुई है.