आंदोलन के दूसरे दिन भी कर्मचारियों ने कर्मचारी भवन के सामने हड़ताल डटे रहे

Chhattisgarh Crimes

बागबाहरा। छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के जिला व राज्य के आव्हान पर आंदोलन के दूसरे दिन भी कर्मचारियों ने कर्मचारी भवन के सामने हड़ताल डटे रहे ।केंद्र सरकार द्वारा 34 प्रतिशत महंगाई भत्ता एवं सातवे वेतनमान के अनुरूप गृहभाड़ा राज्य सरकार द्वारा कटौती से खफा है।

Chhattisgarh Crimes

कामकाज पर दिखने लगा असर

केंद्र के समान महंगाई भत्ता और गृह भाड़ा भत्ता की मांग को लेकर मंगलवार को भी शासकीय कर्मचारी और अधिकारी फेडरेशन से समस्त संगठनों के हड़ताल से सभी शासकीय कार्यालयों में सन्नाटा रहा। वहीं रोजमर्रा की तरह कार्योलयों में कार्य कराने के लिए लोग भी पहुंचते रहे, तहसील कार्यालय में कोतवालो कि ड्यूटी लगा दी गई है । नियत समस्त प्रकाणों को उक्त तिथि से क्रमशः पंद्रह दिवस पर सुनवाई होगी ऐसा जानकारी दिए।कई कार्यालयों मे ताला बंद के कारण दफ्तरों में आने वाले लोगों को निराश हो कर लौटने पर मजबूर हुए। कार्यालयों का चक्कर लगाने के बाद भी लोगों ने मोबाईल के माध्यम से बात करने की कोशिश किए मगर हर कोई सफल नही हुए।

फेडरेशन के कर्मचारियों ने भी कार्यालय का काटा चक्कर

कर्मचारी भवन के पास धरना चालू होने के एक घंटे बाद फेडरेशन के संयोजक एवं संरक्षक ने विभिन्न विभागों के कर्मचारियों की टीम बनाकर ,ब्लाक मुख्यालय के ऑफिस में सामुहिक घूमे, नगर पालिका एवं स्वस्थ्य विभाग में अनिवार्य सेवाओं को छोड़कर सभी कार्यालय बंद रहे।

विदित हो कि कर्मचारी एवं अधिकारी फेडरेशन के संयुक्त तत्वावधान में पूर्व से ही कर्मचारियों के द्वारा चार दिवसीय हड़ताल में जाने की बात लेकर सामूहिक अवकाश के आवेदन अपने उच्चाधिकारियों को दे दिया गया था। जिसका असर ब्लाक में देखने को मिला। हड़ताल के दूसरे दिन हड़ताल सभा मे शुरू होने से पहले ही इसका असर दिखने लगा है। पहले दिन से ज्यादा महिला कर्मचारियों की संख्या बढ़ गई।

आर्थिक नुकसान होने के कारण कर्मचारियों को आंदोलन में जाने के लिए विवश होना पड़ रहा है। कर्मचारियों नेताओं इस आंदोलन को सफल एवं ऐतिहासिक बनाने के लिए कर्मचारियों से संपर्क जनसंपर्क किया गया।

हड़ताल में शिक्षा विभाग से स्वास्थ्य विभाग से राजस्व विभाग से जनपद पंचायत ,कृषि विभाग, फॉरेस्ट विभाग, महिला बाल विकास ,राजस्व विभाग ,नगर पालिका बागबाहरा, सिंचाई विभाग, हॉस्टल अधीक्षक, एवं विकासखंड बागबाहरा के सभी विभाग के कर्मचारी अधिकारी वृहत मात्रा में अपनी उपस्थिति देते हुए अपनी मांग पर अपना विचार रखें जिसमें मुख्य रुप से महिलाओं की भागीदारी अधिक देखने को मिली जिसमें दीपाली वर्मा ,वीणा साहू, रेवती सिंह, पूनम निषाद ,भूपेश्वरी साहू, लता साहू, द्रोपति ठाकुर ,भारतीय सिंह अनुसुइया, गुलशन कुमार ,रश्मि दमयंती दास, लक्ष्मी चंद्राकर, शबीना खान, संतु चंद्राकर, योगेश्वरी परिया, चंद्रिका दीवान, सुनीता सोनी ,इंद्रमणि भूपेश्वरी साहू, ओम कुमारी पटेल ,भंगी राम ध्रुव,सूरत पांडे, आनंद कुमार यादव, चंद्र प्रकाश ठाकुर, शिवकुमार साहू, सत्येंद्र चंद्राकर, सुनील साहू, अरुण शुक्ला ,के आर,धुव, आरआर ठाकुर ,एचआर दीवान, सुब्रत साहू ,चंद्रकांता साहू , हिना सेन , भीमसेन चंद्राकर संयोजक, संरक्षक भैया राम चंद्राकर ,सह,संयोजक प्रकाश बघेल ,सचिव आरके बुनकर, कोषाध्यक्ष डीएन टंडन, एवं पेशनर संघ से दिलीप सेन, अशोक चंद्राकर, भूषण साहू समस्त विभाग के अधिकारी कर्मचारी आज के द्वतीय दिवस धरना स्थल पर पहुँचे थे।