विपक्ष ने फिर सदन में उठाया शराबबंदी का सवाल

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज शराबबंदी का शोर फिर से गूंजा। विद्यारतीन भसीन के लगाये सवाल को आज सदन में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने पूछा। कौशिक ने शराबबंदी को लेकर बनाये गये कमेटी के बारे में जानकारी मांगी। जवाब में मंत्री कवासी लखमा ने बताया कि शराबबंदी को लेकर तीन कमेटी राजनीतिक, समाजिक और प्रशासनिक कमेटी बनायी गयी है। उसके बाद जवाब देने उठे मंत्री मोहम्मद अकबर ने बताया कि 21 समाजिक संगठनों को कमेटी में शामिल किया गया है। उन्होंने बताया कि 2019 में कमेटी बनाया गया था।

जिसके बाद सवाल उठाया गया कि 2019 में कमेटियां बनायी गयी, लेकिन समाजिक कमेटी की एक भी बैठक नहीं बुलायी गयी। कौशिक ने सवाल उठाया कि समाजिक संगठनों के पदाधिकारी का नाम तक अभी तक तय नहीं किया गया है, ऐसे में किसी भी संगठन के प्रतिनिधि को आमंत्रित कैसे किया जायेगा। जवाब में मोहम्मद अकबर ने बताया कि समाजिक संगठन के प्रतिनिधि पदेन होते हैं, इसलिए उनका नाम नहीं लिखा गया है। मंत्री ने ये भी बताया कि कोरोना की वजह से समाजिक कमेटी की एक भी बैठक नहीं बुलायी गयी है।

इसके बाद धरमलाल कौशिक ने प्रशासनिक और राजनीतिक कमेटी को लेकर भी सवाल पूछा कि इन कमेटी की बैठक कब हुई। जवाब में मंत्री ने बताया कि 2019 में दोनों कमेटी की एक-एक बैठक हो चुकी है, कोरोना की वजह से बैठक आगे नहीं बुलायी जा सकी। हालांकि मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि कोरोना के बाद जल्द ही इन कमेटियों की बैठक बुलायी जायेगी।