किराया भंडार में हुए चोरी का खुलासा, वर्कर ही निकला मास्टरमाइंड

Chhattisgarh Crimes

बलौदाबाजार। किराया भंडार के सामानों की चोरी के मामले में पुलिस ने सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपी टेंट दुकान में काम किया करते थे. मामले में चोरी का माल बेचने वालों के साथ खरीदने वालों को भी पुलिस ने पकड़ा है. आरोपियों से 55 हजार रुपए के चोरी का सामान बरामद किया गया है. मामला थाना भाटापारा शहर का है. शहर में किराया भंडार संचालित करने वाले प्रार्थी सुरेश किंगरानी ने पुलिस को बताया कि 18 दिसंबर को अग्रसेन भवन में हुए कार्यक्रम के बाद सामान समेटने पर पता चला कि 11 कुर्सी कम हैं. इस तरह से लगातार 3 माह पूर्व से कार्यक्रम बाद सामान समेटने पर कुछ न कुछ सामान की कमी मिल रही है, जिसे किसी अज्ञात चोर द्वारा चोरी की जा रही है. रिपोर्ट पर धारा 379 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया.

मामले में चोरी का सामान बेचने के साथ खरीदने वालों को गिरफ्तार किया गया. आरोपियों के पास से 40 कुर्सी, 8 टीना टेबल, 5 एलईडी लाइट, 4 प्लास्टिक मेटिंग, 2 काटन मेटिंग, 30 परदे कुल कीमत 55500 रुपए और नगद 6500 रुपए बरामद किया गया. आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा दिया गया है. इस कार्रवाई में उप निरी हितेश जंघेल, सउनि ओम साहू, प्रधान आरक्षक बिसौहा राम साहू, आर भारत भूषण पठारी, प्रमोद पटेल, लक्ष्मी मनहर का विशेष योगदान रहा है.