शराबियों से मोबाईल चुराने वाला गिरोह सरकण्डा पुलिस के हत्थे चढ़ा 4 आरोपियों से 23 नग मोबाईल जब्त

Chhattisgarh Crimes

बिलासपुर। शराबियों को निशाना बनाकर उनका मोबाईल उड़ाने वाले चोरों को सरकण्डा पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस के हत्थे चढ़े मोबाईल चोर 18 से 24 साल के ग्रामीण युवक है कम समय मे आसानी से पैसे कमाने की चाहत में चोरी का रास्ता चुनना इन्होंने पुलिस को बताया अब इन चोरों की स्टोरी में जेल का एपिसोड पुलिस ने जोड़ दिया है ।

शहर कप्तान उमेश कश्यप ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि बीते 22 फरवरी की रात करीब 8:30 बजे रोहित कुमार शनिचरी शराब भट्टी में शराब खरीदने गया था। इसी दौरान किसी ने उसकी जेब में मौजूद सैमसंग कंपनी का मोबाइल पार कर दिया, जिसकी कीमत ?40,000 थी। सरकंडा पुलिस मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश कर रही थी। जब पुलिस ने शराब भट्टी में लगे सीसीटीवी कैमरे का फुटेज देखा तो उसे एक चोर जेब से मोबाइल चोरी करता दिखा। उस तस्वीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू की तो यह तलाश सत्यम नायडू पर जाकर खत्म हुई। थाना प्रभारी जेपी गुप्ता ने काठा कोनी सकरी निवासी सत्यम नायडू को हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो उसने न सिर्फ इस घटना को अंजाम देने की बात स्वीकार की बल्कि उसने बताया कि वह अपने अन्य साथी उपेंद्र वस्त्रकार, मंथन बघेल और संजीव जांगड़े के साथ मिलकर घूम घूम कर शराब भट्टी में भीड़ का फायदा उठाते हुए मोबाइल पार करता है।

यह लोग अधिकांश शराब भट्टी में शराब खरीदने आए लोगों को ही निशाना बनाते थे क्योंकि उनका मानना है कि शराब के नशे में धुत्त व्यक्ति को मोबाइल चोरी का आसानी से पता नहीं चलता। इन गिरोह के अन्य सदस्यों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया, जिनके पास से कुल 23 नग मोबाइल जप्त किए गए , जिनकी कीमत 3 लाख 20 हजार रुपये है। बहरहाल मामले में सरकण्डा पुलिस द्वारा काठा कोनी निवासी सत्यम नायडू 24 वर्ष के अलावा खजुरी नवागांव सकरी निवासी उपेंद्र वस्त्रकार, जरहागांव निवासी मंथन बघेल और काठाकोनी निवासी संजीव जांगड़े को विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया ।