कटते पेड़ सिमटते वनों को देख, पौधरोपण आज मानव जीवन के लिए महती जरूरी : प्रकाश चंद्राकर

Chhattisgarh Crimes

महासमुंद। हरित छत्तीसगढ़ की शुरुआत करते हुए नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्राकर ने शिशु संस्कार स्कूल एवं तुमाडबरी स्थित मणि कंचन केन्द्र में विभिन्न प्रजाति का पौधरोपण किया। नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश ने शुक्रवार को मणि कंचन सेंटर एवं शिशु संस्कार स्कूल परिसर में फलदार पौधरोपण किया। हरित छत्तीसगढ़ की परिकल्पना को साकार करने पालिका अध्यक्ष श्री चंद्राकर ने कहा कि पर्यावरण संतुलन बनाए रखने में पौधों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। साथ ही इनकी सुरक्षा और संरक्षण भी करना जरूरी है। आगे चलकर यहीं पौधा एक विशाल वृक्ष बनेंगे। पालिका अध्यक्ष श्री चंद्राकर ने कहा कि आज चारो ओर कांक्रीटीकरण का जाल बिछा दिया गया है। जिससे वातावरण में अधिक तपिश महसूस किया जा सकता है। यहीं नहीं प्रकृति ने भी मनुष्य को कोरोना जैसी महामारी में लोगों को ऑक्सीजन की कमी का एहसास करा दिया है।

Chhattisgarh Crimes

प्राकृतिक वनों, पेड़ पौधों का नष्ट होना इसके जिम्मेदार भी मानव ही है। इस लिए पौधरोपण करना मनुष्य की आवश्यकता बन गई है। ताकि भविष्य में आने वाली पीढ़ी को हम सब मिलकर एक बेहतर जीवन जीने का मार्ग प्रसस्त कर पाएं और उन्हें शुद्घ वातावरण दे सकें। इसके लिए आवश्यक है कि अधिक से अधिक पौधरोपण किया जाए। इस मौके पर उन्होंने प्रांगण में मुनंगा तथा अमरूद के पौधे रोपित किए। इस अवसर सभापति देवीचंद राठी, मनीष शर्मा, मुन्ना देवार, भाजपा मंडल अध्यक्ष सतपाल पाली, वरिष्ठ समाज सेवी पारस चोपड़ा, मनोहर महंती, हनीश बग्गा, नंदू जलक्षत्री, श्रीमती लक्ष्मी साहू, श्रीमती सीता टोंडेकर, श्रीमती सुरेखा कंवर, मिशन क्लिन सिटी के नोडल अधिकारी दिलीप कश्यप, समन्वयक नीतू प्रधान, नौशाद बक्श, मोहन दास मानिकपुरी, मोहक चंद्राकर के अलावा भारत स्कॉउट गाइड छात्र छात्राएं उपस्थित थे।