राज्य सरकार ने एंटिजन किट खरीद में 20 करोड़ का किया घोटाला, केंद्र की मदद के भरोसे वाहवाही लूट रही छग सरकार : नेता प्रतिपक्ष धरमलाल

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने रविवार दोपहर अहम बयान दिया। उन्होंने दावा किया कि सरकार ने रैपिड टेस्ट किट खरीदी में घोटाला किया है। उन्होंने बीते विधानसभा सत्र में सरकार की तरफ से पेश आंकड़ों का हवाला देते हुए यह बात कही। विधानसभा में सरकार ने जवाब दिया था कि रैपिड किट की खरीदी कब और कितने दामों में की गई। इसमें दी गई राशि का आंकलन करते हुए कौशिक ने कहा कि जून 2020 से सितंबर 2021 के बीच अलग-अलग दामों पर खरीदी हुई है। कभी बढ़ी कीमत पर कभी कम कीमत पर इसमें 28 गुना का अंतर है।

कौशिक ने आगे बताया कि 13 अप्रैल को 36 रुपए प्रति किट की दर से खरीदी हुई। 19 अप्रैल को 89 रुपए प्रति किट के हिसाब से खरीदी की गई। 36 रुपए के हिसाब से 5 करोड़ की खरीदी हुई। 89, 78 और 63 रुपए जैसे अलग-अलग दर में 25 करोड़ की खरीदी की। यहीं 20 करोड़ की गड़बड़ी उजागर होती है। जिस कंपनी ने सप्लाई की उसने दूसरे राज्यों को कम रेट में भी सप्लाई की। पता नहीं यह स्वास्थ्य मंत्री को पता है या नहीं, यह विधानसभा में सरकार का पेश किया जवाब है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने इन दरों के आधार पर कहा है कि किट खरीदी में बड़ी गड़बड़ी हुई है।

केंद्र की मदद पर राज्य ने लूटी शाबाशियां

केंद्र सरकार के द्वारा कोविड काल में मुफ्त राशन दिया गया, कई तरह की सामग्री और रुपए दिए गए। बड़ी सहयोग राशि केंद्र अब राज्य सरकार को फिर से दे रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पीएम नरेंद्र मोदी के दम पर वाहवाही लूट रहे हैं। इनका यहां कोई आधार नहीं है। पंचायतों के काम ठप हैं। गांवों में सड़कें राज्य सरकार नहीं बनवा पा रही क्योंकि पैसे नहीं है। सिर्फ केंद्र की मदद के भरोसे ही वाहवाही लूटने का काम हाे रहा है।