बैंक ऑफ बड़ौदा चनाट में हुये चोरी का खुलासा,4 आरोपी गिरफ्तार

घटना के 12 घण्टे के भीतर ही आरोपी व चोरी की गई सामाग्री बरामद

Chhattisgarh Crimes

महासमुंद। 18-19 मई की दरमियानी रात अज्ञात चोरों ने ग्राम चनाट स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराएं जाने के 12 घंटे के अंदर आरोपियों तक पहुंच गई और चोरी गए सामान भी आरोपियों से बरामद करने में सफ़ल रही। मिली जानकारी के अनुसार 19 मई को प्रार्थी आरीन बासु बडौदा बैंक चनाट भवरपुर के बैंक मैनेजर ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि रात्रि साढ़े बारह बजे तोपलाल पटेल का फोन आया कि बैंक का शटर टुटा हुआ है। तब वे अपने दो सहकर्मियों के साथ ब्राॅच गए और देखा कि शटर टुटा हुआ था।

Chhattisgarh Crimes

उन्होंने फौरन 112 पुलिस टीम को बुलाकर बैंक के अन्दर जाकर देखा तो ब्रांच अस्त व्यस्त स्ट्रांग रूम का ताला क्षतिग्रस्त एवं दरवाजा क्षतिग्रस्त था। जिसमें लनोवो कंपनी का टेबलेट (16000 रूपये) नही था व कुल क्षतिग्रस्त और चोरी हुये सामान की राशि करीब 45000/- रूपये को अज्ञात चोर द्वारा चोरी कर ले गया है। बैंक मैनेजर की लिखित रिपोर्ट पर चौकी भवरपुर से थाना बसना महासमुन्द में अपराध पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक महासमुन्द विवेक शुक्ला ने घटना की गंभीरता को देखते हुये। अनुविभागीय अधिकारी (पु.) विकास पाटले व थाना प्रभारी बसना प्रशिक्षु निखिल रखेचा (भा.पु.से) को बारीकी से मामले की जांच करने का निर्देश देते हुए तीन टीम का गठन किया गया। टीमों के द्वारा अलग-अलग कार्यो का नेतृत्व किया तथा उक्त चोरी की घटना को अंजाम देने वाले अज्ञात आरोपी के बारे में जानकारी एकत्र कर छोटी सी छोटी जानकारी एकत्रित कर चोरी अज्ञात आरोपियों तक पहुचने का हरसंभव प्रसाय किया गया था। पूछताछ पर मुखबिर से सूचना मिली कि 3-4 दिनों से एक इक्कों कार चनाट, भवरपुर घुम रही थी, जिसके आधार पुलिस टीम ने पतासाजी कर उक्त वाहन मालिक का नाम पता किया। वाहन क्रमांक CG 11 E 9205 कमल साहू सरायपाली के नाम पर था।

मुखबिर के निशानदेही पर पुलिस टीम उक्त संदेही को ग्राम ढुटीकोना सरायपाली में घेराबंदी कर पकडा जिसने पूछताछ में अपना नाम कमल साहू पिता डिग्रीलाल साहू उम्र 32 वर्ष सा. ग्राम ढुटीकोना सरायपाली महासमुन्द का निवासी बताया। पूछताछ करने पर पुलिस की टीम को गोलमोल जवाब देने लगा। पुलिस की टीम के द्वारा कडाई से पूछताछ करने पर बताया कि 3-4 रोज से तुलसी निषाद, हरिशंकर निषाद, रितेश शर्मा के साथ मिलकर योजना बनाया कि बैंक आॅफ बडौदा शाखा चनाट भवरपुर में चोरी करेंगें और 3-4 दिन तक बैंक का रैकी कर 18 मई को रात्रि में मेरे इको कार क्रमांक CG 11 E 9205 में हरिशंकर निषाद, तुलसी निषाद, रितेश शर्मा के साथ राड, छैनी, पेचकस लेकर चनाट बडौदा बैंक गए और चारों मिलकर बैंक के शटर, चैनल गेट व ताला को तोडे रितेश शर्मा एक टैबलेट को चोरी कर रख लिया।

उक्त आरोपी के बताये अनुसार आरोपी रितेश शर्मा पिता स्व. हरीश शर्मा उम्र 32 वर्ष मधुबन भवरपुर बसना महासमुन्द को उसके घर से घेराबंदी कर पकडकर चोरी का लनोवो कंपनी का टैबलेट जप्त किया गया । आरोपी हरीश निषाद पिता धन्नू निषाद उम्र 22 वर्ष सा. ग्राम ढुटीकोना सरायपाली महासमुन्द तथा चौथे आरोपी तुलसी निषाद पिता मन्नू निषाद उम्र 23 वर्ष सा. ग्राम ढुटीकोना सरायपाली को घेराबंदी कर घर से गिरफ्तार किया गया। जिनके पास राड, छैनी, पेचकस आदि जप्त किया गया वही चोरी में प्रयुक्त कार को भी पुलिस ने जप्त करते हुए आरोपी के विरूध्द थाना बसना में धारा 457, 380 भादवि के तहत् कार्यवाही की गई।