जल जीवन मिशन: 55 बसाहटों में पेयजल की सप्लाई हुई शुरू

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रूद्रकुमार के निर्देशन में छत्तीसगढ़ के ग्रामीण क्षेत्रों में रहवासियों को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए जल जीवन मिशन कार्यक्रम के तहत सोलर ड्यूल पंप और पानी टंकी स्थापना का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। योजनांतर्गत जांजगीर-चांपा जिले के चयनित 200 गावांें में पेयजल आपूर्ति के लिए तैयार की गई है और कार्ययोजना का तेजी से क्रियान्वयन किया जा रहा है। इनमें से 55 गांवों में पेयजल सप्लाई के लिए आवश्यक अधोसंरचना तैयार कर पेयजल की आपूर्ति शुरू कर दी गई है।

छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) द्वारा जांजगीर-चांपा जिले के सभी विकासखंडों में पेयजल पहुंचाने के लिए 12 मीटर ऊंचाई पर 10 हजार लीटर की क्षमता की वाले पानी टंकी और 1200 वाट क्षमता के सोलर ड्यूल पंप पर स्थापना का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। कार्ययोजना के तहत 55 से अधिक ग्रामों व स्थलों में सोलर ड्यूल पंपों की स्थापना का कार्य पूर्ण कर लिया गया है और पानी की आपूर्ति भी शुरू कर दी गई है। लगभग 150 से अधिक स्थानों पर आवश्यक अधोसंरचना एवं सोलर ड्यूल पंप और टंकी निर्माण का कार्य भी प्रगति पर है। इन स्थानों पर 10 हजार लीटर की क्षमता वाले टंकी का निर्माण और पाइप लाइन बिछाकर पानी घरों तक पहुंचाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि जांजगीर-चांपा जिले में क्रेडा द्वारा विभिन्न मदों से 200 से अधिक बसाहटों पर 3 मीटर और 6 मीटर की ऊंचाई पर 5 हजार लीटर की क्षमता वाले पानी टंकी की स्थापना कर शुद्ध पेयजल का इंतजाम किया जा चुका है।