लॉकडाउन में नौकरी गयी तो लड़की ने प्यार को ही बना लिया पेशा, डेटिंग एप 16 ब्वायफ्रेंड बनाये, …फिर ब्वायफ्रेंड के घर की चोरी

Chhattisgarh Crimes

महाराष्ट्र। डेपिंग एप पर 16 लड़कों से प्यार…..और फिर प्यार की आड़ में चोरी…! पुलिस ने ने एक ऐसी शातिर चोर को गिरफ्तार किया है, जिसने लॉकडाउन में नौकरी के नाम पर प्यार को ही पेशा बना लिया था। पुलिस ने 27 साल की युवती को ब्वायफ्रेंड से चोरी के मामले में गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक सयाली काले पुणे के पास पिंपरी चिंचवाड़ इलाके में रहती थी। वो एक कंपनी में हजारों की सैलरी पर नौकरी भी करती थी, लेकिन लॉकडाउन में नौकरी चली जाने के बाद युवती ने ब्वायफ्रेंड के घर चोरी को ही रोजगार बना लिया।

सयाली काले ने डेटिंग ऐप के जरिए 16 युवाओं को प्यार के जाल में फंसाया। चेन्नई के आशीष कुमार ने पिछले हफ्ते पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। सयाली ने आशीष कुमार के साथ डेटिंग ऐप के जरिए परिचय प्राप्त किया। उसके बाद, उन्हें पुणे बुलाया गया और एक होटल में जाने के बाद, आशीष कुमार कोल्ड ड्रिंक्स और नशे में भंग कर दिया गया। फिर उसके शरीर से गहने और नकदी लूट ली, ऐसी शिकायत दर्ज की गई है।

मामले के बारे में अधिक जानकारी देते हुए, पिंपरी चिंचवाड़ शहर के आयुक्त श्री कृष्ण प्रकाश ने आजतक को बताया कि इस घटना में गिरफ्तार महिला अपराधी का नाम सयाली उर्फ ​​(शिखा) काले है, जो सोशल मीडिया के टिंडर और बम्बल डेटिंग ऐप पर है युवाओं के लिए संपर्क में आते थे और उनके साथ संपर्क बनाते थे और उनका संपर्क बढ़ाते थे। अपने घर में घुसने के बाद वह खाने-पीने की चीजों में बेहोशी की दवा मिलाकर घर से कीमती सामान चुरा लेता था।

इस तरह, उसने पिंपरी चिंचवाड़ और आसपास के इलाकों में लगभग 16 आपराधिक अपराधों को अंजाम दिया, जिसके बाद क्राइम ब्रांच यूनिट 4 को मंगलवार को बहुत ही शातिराना तरीके से गिरफ्तार किया गया।

पुलिस द्वारा कड़ी पूछताछ में यह पता चला है कि 16 युवकों को कैसे प्यार के जाल में फंसाकर लूटपाट की गई है। पुलिस ने अपील की है कि सयाली ने जिस किसी के साथ भी धोखाधड़ी की है उसने सामने आकर शिकायत दर्ज कराई है। उसके खिलाफ चार लोगों ने शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने अब तक इस महिला के पास से 15,25,000 मूल्य के सोने के गहने और कीमती सामान चोरी कर लिया है। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि क्या इस डेटिंग ऐप की मदद से इस महिला ने 16 लोगों के अलावा दूसरे लोगों को भी अपना शिकार बनाया है।