ससुराल वालों ने पिटाई की तो पत्नी का गला दबाकर मार डाला, आरोपी पति गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

दुर्ग। ससुराल वालों से मार खाने के बाद गुस्से में उबल रहा पति अपनी पत्नी को नीचा दिखाने और झगड़ा करने का कोई मौका नहीं छोड़ता था। यह सिलसिला बढ़ता गया और एक दिन पत्नी का गला घोंटकर मार डाला। पुलिस को गुमराह करने के लिए पत्नी की आत्महत्या की साजिश रची, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सच्चाई सामने आ गई। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है। घटना रानीतराई थाने के बोरेंदा गांव की है।

पुलिस को 17 मई को खबर मिली कि बोरेंदा की राजकुमारी यदु (25 साल) ने फांसी लगा ली है। पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पंचनामा कराया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस मर्ग की जांच कर रही थी, तभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिली। रिपोर्ट में साफ था कि पहले मुंह और गला दबाकर मारा गया है। उसके बाद लाश को फंदे से लटकाया गया है। पुलिस ने तत्काल धारा 302 के तहत हत्या का मुकदमा दर्ज किया।

पुलिस की जांच में सबसे अहम संदेही राजकुमारी का पति घनश्याम यदु ही मिला। पुलिस उससे पूछताछ करती तो वह बयान बदल देता। इससे पुलिस का शक गहरा हो गया। पुलिस ने थोड़ी कड़ाई की तो वह टिक नहीं पाया और आखिरकार वह कहानी सुनाई, जो सुनने के लिए पुलिस की टीम लगातार पूछताछ में लगी थी।

घनश्याम ने पुलिस को बताया कि वह पत्नी और बच्चे को लेकर अपने ससुराल मंदिर हसौद गया था। वहां पूजा कार्यक्रम में शामिल होने के दौरान ही ससुराल वालों से विवाद हो गया। उसके ससुराल वालों ने पिटाई कर दी। इस बात पर पति-पत्नी में आए दिन झगड़ा होने लगा। 17 मई को भी इसी तरह विवाद हुआ, जिसके बाद घनश्याम ने खाट पर रखे कथरी (बिस्तर) से पत्नी का मुंह दबाया और हाथ से गला दबाने लगा। इससे राजकुमारी बेहोश हो गई। इसके बाद गमछा से गला घोंटा। इसके बाद साड़ी का फंदा बनाकर लटका दिया था।