नवा रायपुर में 20 एकड़ जमीन पर बनेगा वर्ल्ड क्लास स्कूल, मुख्यमंत्री ने किया वर्चुअल शिलान्यास

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ की प्रशासनिक राजधानी नवा रायपुर में एक विश्व स्तरीय बोर्डिंग स्कूल खुलने जा रहा है। इसका निर्माण सेक्टर 32 में 20 एकड़ जमीन पर किया जाएगा। यह जमीन नवा रायपुर विकास प्राधिकरण-NRDA ने नि:शुल्क आवंटित की है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शिक्षक दिवस पर इसका वर्चुअल शिलान्यास किया है। बताया जा रहा है कि अगले साल तक यह स्कूल बनकर तैयार हो जाएगा।

इस उत्कृष्ट शिक्षण संस्थान का संचालन एक समिति के जरिए किया जाना है। मुख्यमंत्री इस उत्कृष्ट विद्यालय समिति के पदेन अध्यक्ष होंगे। वहीं स्कूल शिक्षा मंत्री इसके उपाध्यक्ष बनाए जाएंगे। समिति में सदस्य सचिव एवं अन्य सात सदस्य नियुक्त किये गये हैं। विश्व स्तरीय आवासीय शिक्षण संस्थान को कक्षा 6ठीं से 12वीं तक कुल 700 छात्र-छात्राओं हेतु विकसित किया जाएगा। परिसर का निर्माण दो चरणों में किया जाना है। पहले चरण में कुल 200 छात्र-छात्राओं के लिए एकेडमिक बिल्डिंग, लेबोरेट्री, एडमिन बिल्डिंग, डाइनिंग हॉल, हॉस्टल, इन डोर स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, स्वीमिंग पुल, हॉर्स रायडिंग, प्लेग्राउंड, प्रिंसिपल एवं वाइस प्रिंसिपल बंगला बनाया जाएगा।

इसके दूसरे चरण में ऑडिटोरियम, स्कूल की पूर्ण क्षमता अनुसार छात्र एवं छात्राओं हेतु हॉस्टल तथा स्टॉफ क्वार्टर्स का विकास किया जाना है। उत्कृष्ट शिक्षण संस्थान परिसर परियोजना के पहले चरण के निर्माण के लिए समिति ने 49 करोड़ 52 लाख रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर उत्कृष्ट शिक्षण संस्थान के निर्माण कार्य की अवधि 12 महीने रखी गई है। अधिकारियों का कहना है कि उत्कृष्ट शिक्षण संस्थान से छत्तीसगढ़ के छात्र छात्राओं को विश्व स्तरीय शैक्षणिक सुविधाएं मिलेंगी।

शिलान्यास के मौके पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे, मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा, स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह, स्कूल शिक्षा सचिव डॉ. एस भारती दासन, एनआरडीए की सीईओ किरण कौशल आदि मौजूद रहे।